Pehchan Faridabad
Know Your City

आजकल कपल्स उंगलियों में जढ़वा रहे हैं इंगेजमेंट रिंग,इसके पीछे जुड़ी है ये खास वजह

अपने प्यार को साबित करने के लिए या यूं कहे प्यार जताने के लिए अपने शरीर पर अपने प्रेमियों या होने वाले पति का नाम लिखवाते है । इसके अलावा आप लोगों ने ईयर पियर्सिंग यानी कान छिंदवाने के बार में जरूर सुना होगा। अक्सर लड़कियां अपने कानों में पियर्सिंग करवाती हैं और उसमें सुंदर-सुंदर ईयर रिंग पहनती हैं। चलिए ये बात तो फिर भी समझ आती है लेकिन बदलते दौर में लोगों के शौक भी बदल रहे है ।शादी से पहले प्यार जताने के लिए आज हम आपको एक नए ट्रेंड के बारे में बताने जा रहे है ।जिसे आज कल के नौजवान कर रहे है ।

क्या है प्यार जताने का नया तरीका ?

जी हां, आजकल लोग अपनी इंगेजमेंट रिंग को अनोखे तरह से पहन रहे हैं। जोड़े पहले अपनी उंगली में छेद करवा रहे हैं उसके बाद इनमें रिंग पहन रहे हैं। इस तरह से सगाई की अंगूठी पहनने का ये चलन बेहद ही फेमस हो रहा है और अधिकतर जोड़े अपनी इंगेजमेंट रिंग अपनी उंगलियों में जड़वा रहे हैं। रिंग आसानी से निकल ही नहीं सकती ।हम आपको बताना चाहेंगे कि जहां प्यार है वहां छोटी मोटी नोक झोंक तो होती है , इस नोंक झोंक में अक्सर प्रेमी अपनी रिंग ही उतार के सबसे पहले फेंकते है ।लेकिन अब उंगलियों में रिंग जड़वाने के बाद वो रिंग निकलेगी ही नहीं ।

इंगेजमेंट रिंग पियर्सिंग करवाने की वजह

इंगेजमेंट रिंग पियर्सिंग करवाने के पीछे कई सारे कारण जुड़े हुए हैं। कई लोगों का ऐसा मानना है कि इंगेजमेंट रिंग पियर्सिंग करवाने से उनका रिश्ता मजूबत हो जाता है। जबकि कई लोग रिंग ना खोने के डर से ऐसा कर रहे हैं। एक रिपोर्ट के अनुसार ब्रिटेन में इंगेजमेंट रिंग पियर्सिंग का चलन बेहद ही प्रसिद्ध हो रहा है और लोग इंगेजमेंट रिंग पियर्सिंग जमकर करवा रहे हैं। इस रिपोर्ट के अनुसार औसतन ब्रिटिश कपल लाखों रुपए रिंग के ऊपर खर्च करते हैं और अधिकतर लोग हीरे और इसी तरह की महंगी धातुओं की अंगूठियां ही पहना करते हैं। ऐसे में अंगूठी ना खोए इसके लिए वो रिंग पियर्सिंग करवा रहे हैं। इसे करवाने से रिंग को खोने का खतरा खत्म हो जाता है।

दर्द से करहाते है लोग लेकिन फिर भी अंगूठी है अनमोल ।

अगर आप सोच रहे हैं कि रिंग पियर्सिंग आसानी से और बिना दर्द के हो जाती है तो आप गलत हैं। रिंग पियर्सिंग करवाते समय आसहनिय दर्द होता है। इतना ही नहीं कई बार इंफेक्शन भी हो जाता है। वहीं रिंग पियर्सिंग करवाने से उंगली पर निशान भी पड़ जाते हैं। इसलिए आप अगर रिंग पियर्सिंग करवाने का सोच रहे हैं तो पहले अच्छे से मन बना लें और उसके बाद ही इसे करवाएं। क्योंकि रिंग पियर्सिंग करवाने से दर्द तो खूब होगा ही साथ में ही उंगली पर निशान भी पड़ जाएंगे। इसके अलावा जब भी आप रिंग पियर्सिंग करवाएं तो केवल अच्छी जगह से ही करवाएं।

हमने आप तक ये सूचना इसलिए पहुंचाई क्योंकि इस ट्रेंड ने अब इंडिया में भी अपने कदम रख दिए है ।इसलिए आपका दोस्त , संबंधी जिस किसी की भी शादी होनी हो आप ये बात उसके साथ सांझा कर सकते है , उनकी शादी भी इस रसम के साथ यादगार बं सकती है ।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More