HomeCrimeअगर लॉकडाउन का नियम तोड़ा तो आपको भी करनी पड़ सकती है...

अगर लॉकडाउन का नियम तोड़ा तो आपको भी करनी पड़ सकती है उठक बैठक

Published on

महामारी दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है और जिले में इसी महामारी को रोकने के लिए सरकार के द्वारा एक हफ्ते का लॉकडाउन पूर्ण रूप से लगा दिया गया है। लेकिन उसके बावजूद भी कुछ लोग जिले में ऐसे हैं जो बिना किसी कार्य से घर से बाहर निकलते हैं और लॉकडाउन के नियमों की अवहेलना कर रहे हैं।

इसी लॉकडाउन को पूर्ण रूप से सफल बनाने के लिए जिले में जगह-जगह पुलिस तैनात है और पुलिस के द्वारा मुस्तैदी से लोगों से सवाल जवाब किए जा रहे हैं कि वह किस कार्य के लिए घर से बाहर निकले हैं।

अगर लॉकडाउन का नियम तोड़ा तो आपको भी करनी पड़ सकती है उठक बैठक

एनआईटी 12 चौक पर भी पुलिस इसी तरह से अपने कार्य को बड़ी मुस्तैदी से कर रही थी। लेकिन वहां पर कुछ ऐसे ऑटो चालक या फिर यूं कहें लोग बिना किसी महत्वपूर्ण काम के घर से बाहर निकले हुए थे। जिस को रोकने पर पुलिस ने उनसे जब सवाल जवाब किया तो उनके पास कोई पुष्टि भरा जवाब नहीं था।

अगर लॉकडाउन का नियम तोड़ा तो आपको भी करनी पड़ सकती है उठक बैठक

जिसकी वजह से पुलिस ने उन सभी ऑटो चालक और वाहन चालकों से उठक बैठक करवा कर उनको सजा दी और कहा कि आगे से वह किसी भी महत्वपूर्ण कार्य के बिना घर से बाहर ना निकले। क्योंकि यह जो लॉकडाउन लगाया गया है वह उनकी सुरक्षा और उनको इस महामारी से बचाने के लिए लगाया गया है।

अगर लॉकडाउन का नियम तोड़ा तो आपको भी करनी पड़ सकती है उठक बैठक

साथ ही उन्होंने लोगों को यह भी कहा है कि अगर किसी को कोई बहुत जरूरी काम है और उसके पास किसी प्रकार का कोई वाहन नहीं है। तो वह ऑटो का इस्तेमाल ना करें। वह किसी अपने परिजन से वाहन लेकर उस कार्य को करें। क्योंकि लॉकडाउन में ऑटो पूर्ण रूप से बंद है।

अगर लॉकडाउन का नियम तोड़ा तो आपको भी करनी पड़ सकती है उठक बैठक

इसके अलावा जिन भी व्यक्ति को सब्जी लेने के लिए मंडी की ओर जाना होता है। तो वह ऑटो की बजाय कोई प्राइवेट या कोई और अन्य वाहन लेकर ही मंडी में जाए। ऑटो का मंडी में जाना भी बंद है। इसीलिए लोग अपने अपने कार्य को अपने वाहन के जरिए करें।

अगर लॉकडाउन का नियम तोड़ा तो आपको भी करनी पड़ सकती है उठक बैठक

लॉकडाउन को पूर्ण रूप से सफल बनाने के लिए पुलिस के द्वारा ना तो कोई चालान किया जा रहा है और ना ही कोई लठ बजाई जा रही है। बस उनको समझाया जा रहा है और उनसे उठक बैठक करवाई जा रही है। ताकि उनको भी याद रहे कि वह किस गलती की सजा पा रहे हैं।

Latest articles

NIT क्षेत्र में पानी की किल्लत के समाधान को लेकर FMDA के CEO से मिले विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 29 मई 2024 को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने फरीदाबाद...

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

More like this

NIT क्षेत्र में पानी की किल्लत के समाधान को लेकर FMDA के CEO से मिले विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 29 मई 2024 को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने फरीदाबाद...

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...