HomeIndiaपति के नही होने दिए सात फेरे , पत्नी ने किया कुछ...

पति के नही होने दिए सात फेरे , पत्नी ने किया कुछ ऐसा काम की सोचने पर होंगे मजबूर

Published on

हम जिस समाज में रहते हैं भले ही उस समाज में लड़का लड़की को एक समान दर्जा देने का कितना ही दम क्यों ना भरा जाता है। मगर सच्चाई यही है कि आज भी महिलाओं को दहेज के नाम पर रौंदा जाता है, और दहेज ना दिए जाने पर कभी उन्हें आग के हवाले कर दिया जाता है, तो कभी तलाक के जरिए उनसे अपने रिश्ते नाते तोड़ लए जाते हैं।

मगर हरियाणा के झज्जर जिले में एक ऐसा ही शख्स दहेज की लालच में पहली पत्नी को तलाक देने की तैयारी कर चुका था लेकिन पिछले 7 साल से उसका मुकदमा चल रहा था इससे पहले कि वह तलाक देकर अपनी पहली पत्नी से अलग होता उससे पहले ही वह दूसरी शादी करने चल पड़ा था।

पति के नही होने दिए सात फेरे , पत्नी ने किया कुछ ऐसा काम की सोचने पर होंगे मजबूर

मगर शादी होने से पहले या फिर यूं कहें कि ठीक फेरे होने से पहले ही पहली पत्नी महिला एवं बाल संरक्षण आयोग की टीम और पुलिस को लेकर उसके मंडप पर जा पहुंची। जहां ना सिर्फ पहली पत्नी ने पति की दूसरी शादी रुकवाई, वही उसे पुलिस द्वारा गिरफ्तार भी करवाया गया।

पुलिस को दी शिकायत में पीड़िता ने बताया कि उसकी शादी सोनीपत निवासी व आरोपी युवक के साथ ठीक 7 साल पहले साल 2014 में हुई थी। पत्नी ने बताया कि शादी के बाद से ही उसके पति ने दहेज को लेकर उसे मानसिक प्रताड़ना देना शुरू कर दिया था इतना ही नहीं दहेज के चलते उसे अपने ही ससुराल से निकाल दिया गया था, और वह जब से मायके में रह रही थी। उसने बताया कि ससुराल के ही रिश्तेदार से दूसरी शादी करने का पता लगा था।

पति के नही होने दिए सात फेरे , पत्नी ने किया कुछ ऐसा काम की सोचने पर होंगे मजबूर
पति के नही होने दिए सात फेरे , पत्नी ने किया कुछ ऐसा काम की सोचने पर होंगे मजबूर

महिला एवं बाल संरक्षण आयोग की टीम के सदस्यों ने बताया कि शिकायत मिलने पर वह यहां पहुंचे हैं। उन्होंने युवक को दूल्हे की वेशभूषा में शादी करते हुए पकड़ा है।

आरोपी को पुलिस के हवाले कर दिया गया है। जांच पड़ताल के बाद आरोपी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। कहीं ना कहीं यह एक समाज के लिए संदेश भी है कि महिलाओं को अपने हक के लिए लड़ना चाहिए चाहे अंजाम कुछ भी क्यों ना हो।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...