HomeTrendingसंक्रमित होने के बावजूद शादियों में ठुमके लगाता रहा युवक, बेवकूफी से...

संक्रमित होने के बावजूद शादियों में ठुमके लगाता रहा युवक, बेवकूफी से पूरा गांव संक्रमण के कब्जे में

Published on

दिन प्रतिदिन संक्रमित मरीजों का आंकड़ा और अस्पतालों का हाल आंखों देखने के बावजूद भी लोगों में जागरूकता देखने को नहीं मिल रही है, और यही कारण है कि एक व्यक्ति का खामियाजा पूरे समाज को और फिर पूरे देश को भरने की नौबत आन पड़ी हैं।

यह बात किसी से छिपी नहीं है कि हस्पताल में इलाज की व्यवस्था तितर-बितर हो चुकी है, और अस्पतालों के बाहर हो या फिर क्लीनिक के बाहर इलाज कराने वाले मरीजों की लंबी लंबी कतारें देखी जा सकती है।

संक्रमित होने के बावजूद शादियों में ठुमके लगाता रहा युवक, बेवकूफी से पूरा गांव संक्रमण के कब्जे में

और इससे भी अगर किसी को समझ नहीं आ रहा तो श्मशान के अंदर रोजाना की तादाद में जलने वाले शवों की लाइन देखकर कोई शब्द ही नहीं है जो दर्द को बयान कर सकें।

यह मंजर देखने के बाद में अभी भी कुछ ऐसे लोग हैं जिनकी आंखों में शर्म तक नहीं रह गई, और लोग बेखौफ होकर ना सिर्फ बाहर घूम रहे हैं बल्कि यह जानने के बाद भी कि वह संक्रमित है, शादियों में घूम कर ना सिर्फ फोटो खिंचा रहे हैं,

संक्रमित होने के बावजूद शादियों में ठुमके लगाता रहा युवक, बेवकूफी से पूरा गांव संक्रमण के कब्जे में

बल्कि डांस करके खूब ठुमके भी लगाए जा रहे हैं। एक ऐसा ही मामला मध्यप्रदेश के निवाड़ी के अंतर्गत आने वाले लुहारगुवा गांव में देखने को मिला। जहां 24 वर्षीय युवक को संक्रमित होने के बावजूद भी 8 दिन तक पूरे गांव में खुला घूमता रहा और उसने अपने आपको कोरेंटिन करना उचित नहीं समझा।

परिणाम यह हुआ कि धीरे-धीरे करके पूरा गांव कोरोना की जद में आ गया और लोग बीमार पड़ने लगे। अस्पतालों में टेस्ट करवाने के लिए लंबी लंबी कतारें लग गई।

संक्रमित होने के बावजूद शादियों में ठुमके लगाता रहा युवक, बेवकूफी से पूरा गांव संक्रमण के कब्जे में

गौरतलब 27 अप्रैल को उक्त युवक एक शादी में भी ना सिर्फ बेखौफ होकर घूमता रहा, बल्कि शादियों में ठुमके लगाने से बाज नहीं आया। स्टेज पर जाकर दूल्हे दुल्हन के साथ में चिपक चिपक के फोटो खिंचवाई और अंजाम यह रहा कि पिछले दिनों हुए टेस्ट में 60 में से 30 व्यक्तियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

फिलहाल पूरे गांव को कंटेंटमेंट घोषित करते हुए गांव को सील करने साथ साथ गांव के बाहर बेरिकेट्स लगा दिए गए हैं, और यहां से आवागमन पूरी तरह अवरुद्ध कर दिया गया है।

संक्रमित होने के बावजूद शादियों में ठुमके लगाता रहा युवक, बेवकूफी से पूरा गांव संक्रमण के कब्जे में

वहीं डॉक्टरो की टीम एक एक करके ग्रामवासियों के घर में जाकर उनका कोविड-19 का टेस्ट कर रही है। वहीं जैसे ही यह मामला पुलिस विभाग के संज्ञान में आया तो उन्होंने उक्त व्यक्ति और गुपचुप शादी करने की एवज में 3 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...