HomeFaridabadटीकाकरण के दूसरे चरण में निजी अस्पताल मुहैया नहीं करा रहे हैं...

टीकाकरण के दूसरे चरण में निजी अस्पताल मुहैया नहीं करा रहे हैं वैक्सीन, लोगों को हो रही है परेशानी

Published on

महामारी के बढ़ते मामलों के बीच टीकाकरण को रामबाण के रूप में देखा जा रहा है परंतु अभी तक जिले के निजी अस्पतालों में टीकाकरण की प्रक्रिया शुरू ही नहीं हुई है। निजी अस्पताल संचालकों ने महामारी की वैक्सीन खरीदी ही नहीं है।

दरअसल, जिले में महामारी के 18+ के लिए टीकाकरण की प्रक्रिया पिछले हफ्ते से शुरू हो गई है। जिले भर के तमाम स्वास्थ्य केंद्र तथा सरकारी अस्पतालों में लोगों को वैक्सीन लगाई जा रही है परंतु अभी तक निजी अस्पताल संचालकों ने वैक्सीनेशन की प्रक्रिया को शुरू ही नहीं किया है। प्रक्रिया ना शुरू होने के चलते वैक्सीन लगवाने के लिए लोग पूरी तरीके से सरकारी स्वास्थ्य केंद्र तथा अस्पतालों पर निर्भर है।

टीकाकरण के दूसरे चरण में निजी अस्पताल मुहैया नहीं करा रहे हैं वैक्सीन, लोगों को हो रही है परेशानी

ज्ञात रहे कि 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के लिए वैक्सीनेशन प्रक्रिया जब शुरू हुई थी तो निजी अस्पताल संचालकों को वैक्सीन सरकार की ओर से मुहैया कराई गई थी परंतु इस बार वैक्सीन स्वयं खरीदने के आदेश निजी अस्पताल संचालकों को दिए गए थे। वैक्सीन की कीमत 250 रुपए रखी गई थी। टीकाकरण के इस चरण में निजी अस्पताल संचालकों को वैक्सीन स्वयं ही खरीदनी पड़ेगी।

फरीदाबाद के सभी सरकारी स्वास्थ्य केंद्रों पर वैक्सीन लगाई जा रही है जिससे रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया शुरू होते ही स्लॉट बुक हो जाता है। निजी अस्पतालों में प्रक्रिया शुरु ना हो पाना लोगों के लिए परेशानी का सबब बना हुआ है।

टीकाकरण के दूसरे चरण में निजी अस्पताल मुहैया नहीं करा रहे हैं वैक्सीन, लोगों को हो रही है परेशानी

वैक्सीन बनाने वाली कंपनियों की ओर से निजी अस्पतालों के लिए वैक्सीन की कीमत तय की गई है परंतु निजी अस्पताल संचालक वैक्सीन के लिए आगे नहीं आ रहे वही वैक्सीन की पहली डोज लगवा चुके लोगों को भी दूसरी डोज का इंतजार करना पड़ रहा है।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...