HomeFaridabadबल्लभगढ़ के फर्नीचर उद्योगपतियों ने कोविड सेंटरों में कुर्सी-स्टूल वितरित कर दिया...

बल्लभगढ़ के फर्नीचर उद्योगपतियों ने कोविड सेंटरों में कुर्सी-स्टूल वितरित कर दिया जीवित इंसानियत का परिचय

Published on

सरकार द्वारा जगह-जगह कोविड सेंटर बनाए गए हैं। जहां मरीजों की जांच की जा रही है, ऐसे में मरीजों के साथ-साथ उनके परिजन भी कॉविड केयर में पहुंच रहे हैं। परंतु वहां उन्हें बैठने के लिए किसी भी तरह की सुविधा मुहैया नहीं कराई गई थी,

जिसके चलते इसका भार अपने ऊपर लेते हुए और आमजन की परेशानी का समाधान करने के लिए बल्लभगढ़ के बंसल फर्नीचर हाउस के मालिक प्रवेश बंसल और सुमित गर्ग ने जगह-जगह बने कोविड-19 सेंटरों में कुर्सी व स्टूल का वितरण किया जा रहा है, ताकि मरीजों के साथ आने वाले तीमरादार को भी राहत मिल सकें।

बल्लभगढ़ के फर्नीचर उद्योगपतियों ने कोविड सेंटरों में कुर्सी-स्टूल वितरित कर दिया जीवित इंसानियत का परिचय

दरअसल, दिन प्रतिदिन संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ने के साथ साथ मौसम भी बदल रहा है। ऐसे में गर्मी और चिलचिलाती धूप में निकलने वाले मरीज संग तीमारदार भी व्याकुल हो रहे है। जिसके चलते उन्हें आराम से बैठने हेतु उद्योगपति सुशील अग्रवाल की तरफ से कुर्सी और स्टूल वितरित किए गए।

बल्लभगढ़ के फर्नीचर उद्योगपतियों ने कोविड सेंटरों में कुर्सी-स्टूल वितरित कर दिया जीवित इंसानियत का परिचय

अब तक उनके द्वारा सिविल हॉस्पिटल, गांव बन्नुवाल वेलफेयर एसोसिएशन एनआईटी फरीदाबाद, अर्बन प्राइमरी सेक्टर एत्मादपुर, प्राइमरी हेल्थ सेंटर छाएसा, डबुआ डिस्पेंसरी फरीदाबाद में कुर्सी व स्टूल वितरित की जा चुकी है।

बल्लभगढ़ के फर्नीचर उद्योगपतियों ने कोविड सेंटरों में कुर्सी-स्टूल वितरित कर दिया जीवित इंसानियत का परिचय

इस नेक कार्य में एवरो इंडियन लिमिटिड के प्रवेश बंसल के अतिरिक्त,एवरो फर्नीचर के चेयरमैन सुशील अग्रवाल द्वारा इस मुहिम में एक महत्वपूर्ण योगदान दिया जा रहा हैं।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...