HomeFaridabadस्मार्ट सिटी ने दिया शहर को स्काडा नाम का तोहफा, दूर होगी...

स्मार्ट सिटी ने दिया शहर को स्काडा नाम का तोहफा, दूर होगी शहर की बड़ी समस्या

Published on

फरीदाबाद : जैसे ही गर्मियों का समय आता है फरीदाबाद शहर में पानी की समस्या गहराने लगती है और लोग पूरी गर्मी के मौसम में पाने के लिए परेशान होते रहते हैं लेकिन स्मार्ट सिटी फरीदाबाद द्वारा इस समस्या को दूर करने के पूरे प्रयास किए जा रहे हैं।

फरीदाबाद के वासियों को पीने का पानी भरपूर मात्रा में मिल सके इसको लेकर फरीदाबाद स्मार्ट सिटी लिमिटेड स्काडा सिस्टम ( सुपरवाइजरी कंट्रोल एंड डाटा एक्विजिशन ) काम करना शुरू कर दिया है स्मार्ट सिटी लिमिटेड इस प्रोजेक्ट पर करीब 1 वर्ष से काम कर रही है ।

स्मार्ट सिटी ने दिया शहर को स्काडा नाम का तोहफा, दूर होगी शहर की बड़ी समस्या

वही अब इस काम की जिम्मेदारी एक विदेशी कंपनी को सौंप दी गई है कंपनी ने रेनीवालों की लाइन नंबर 1 से अपने काम को शुरू भी कर दिया है कंपनी यहां के खराब हो चुकी मोटर्स को बदलेगी साथ ही जिस वजह से पानी बर्बाद होता है उसको भी रोकने के लिए अत्याधुनिक मशीनों का प्रयोग करेगी .

इतना ही नहीं यह कंपनी एक कंट्रोल रूम का भी निर्माण करेगी ताकि सब हनीवेल के पानी की सप्लाई का एक डांटा वहां पर पता लग सके हालांकि अभी इस कार्य को थोड़ा सा समय बाकी है लेकिन कहा जा रहा है कि यह कार्य करीब 9 महीने के अंदर खत्म करना होगा उम्मीद है अगले साल 2022 में फरवरी तक यह कार्य पूरा कर लिया जाएगा और फरवरी से ज्यादा मात्रा में पानी मिल सकेगा

स्मार्ट सिटी ने दिया शहर को स्काडा नाम का तोहफा, दूर होगी शहर की बड़ी समस्या

इस बारे में फरीदाबाद स्मार्ट सिटी लिमिटेड की सीईओ डॉ गरिमा मित्तल ने कहा कि स्काडा सिस्टम पर कार्य शुरू कर दिया गया है हम पूरी उम्मीद करते हैं कि अगले साल तक गर्मियों से पहले लोगों को भरपूर मात्रा में पानी मिल सकेगा यह एक बड़ा प्रोजेक्ट है इस प्रोजेक्ट से फरीदाबाद शहर को काफी फायदा होगा और 20 लाख की आबादी वाले जगहों को पानी की दिक्कत से निजात मिलेगी.

स्मार्ट सिटी ने दिया शहर को स्काडा नाम का तोहफा, दूर होगी शहर की बड़ी समस्या

बता दें कि फरीदाबाद की आबादी करीब 20 लाख के लगभग है कुछ लोग बूस्टिंग स्टेशन से अपने इलाके में ज्यादा पानी सप्लाई करा लेते थे और अन्य जो लोग होते थे वहां तक काम पानी पहुंचा था क्योंकि पानी के बंटवारे का सिस्टम पंप ऑपरेटर के हाथों में होता है वहीं अगर इस समस्या को ऑनलाइन कर दिया जाए तो काफी हद तक समस्या का समाधान किया जा सकता है

स्मार्ट सिटी ने दिया शहर को स्काडा नाम का तोहफा, दूर होगी शहर की बड़ी समस्या

आपको बता दें कि इस स्कोडा कंपनी लाइन नंबर 1 से काम शुरू किया जा चुका है पानी को बर्बादी की रोकने के लिए आधुनिक मशीनों का इस्तेमाल किया जाएगा और पानी की सप्लाई के मंत्री के लिए एक कंट्रोल रूम भी बनेगा

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...