HomeInternationalअगर इस देश में घूमना पसंद करते है तो चिंता मत करिए,...

अगर इस देश में घूमना पसंद करते है तो चिंता मत करिए, क्योंकि पूरा खर्चा यह देश खुद देगा

Published on

जब इंसान की जिंदगी में बुरा वक्त आता है तो उसी सबसे पहले ख्याल ईश्वर का ही आता है। उसकी प्रार्थना ईश्वर में इस कदर लीन हो जाती है कि इंसान को लगने लगता है कि ईश्वर ही अब उसे उसके मुश्किल वक्त से निकाल सकता है। लेकिन इस वक्त दुनिया जिस दौर से गुजर रही है वो दौर इतना मुश्किल हो चुका है कि इस दौरान मंदिर, मस्जिद, गिरजाघर सब पर ताला जड़ा हुआ है।

मुश्किल वक्त में जिस वक्त इंसान मंदिर, मस्जिद, गिरजाघर इत्यादि में जाकर प्रार्थना करता है कि उसके ऊपर आई मुश्किल को भगवान से प्रार्थना करके दूर किया जा सके। यह जो मुश्किल घड़ी आई है इस दौरान तो इंसान भगवान के दरबार पर भी नहीं जा सकता। जिस तरह लॉक डाउन लगाकर इंसान को घर में कैद किया गया है वैसे ही भीड़ से बचने के लिए धार्मिक स्थलों पर भी अंकुश लगा हुआ है।

अगर इस देश में घूमना पसंद करते है तो चिंता मत करिए, क्योंकि पूरा खर्चा यह देश खुद देगा

आप में से भी कई लोग ऐसे होंगे जो घर में तो क्या देंगे लेकिन वह भी भगवान से यही प्रार्थना कर रहे होंगे कि जल्द से जल्द इस परेशानी पर लगाम लग सके। इस बीच जापान से ऐसी खबर आ रही है कि मैं अपने पाठकों को आकर्षित करने के लिए एक विशेष पैकेज की घोषणा कर रहे है।

दरसअल, जापान सरकार ने घोषणा की है कि पर्यटक को बुलाने के लिए 18.2 बिलियन डॉलर खर्च करेगी। सरकार सैलानियों के यात्रा खर्च का आधा हिस्सा देगी।

अगर इस देश में घूमना पसंद करते है तो चिंता मत करिए, क्योंकि पूरा खर्चा यह देश खुद देगा

जापान की पर्यटन एजेंसी के प्रमुख हिरोशी तबाता ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि आधे खर्च का भुगतान करने के बाद पर्यटक जापान जाने के लिए आकर्षित होंगे। इस योजना के बारे में विस्तृत जानकारी अभी जारी नहीं की गई है। सरकार ने कहा है कि नई योजना जुलाई तक शुरू हो सकती है। हालाँकि, फिलहाल, जापान में पर्यटकों के लिए एक प्रतिबंध लागू है।

जापान की पर्यटन एजेंसी ने यह घोषणा तब की जब प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने सोमवार को देश से आपातकाल हटा दिया। जापान में लोग घरों से भी काम कर रहे हैं और स्कूल बंद होने के कारण बंद हैं।

अगर इस देश में घूमना पसंद करते है तो चिंता मत करिए, क्योंकि पूरा खर्चा यह देश खुद देगा

प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने देश से आपातकाल को हटाते हुए यह भी कहा कि इसका मतलब यह नहीं है कि देश से महामारी समाप्त हो गई है। लेकिन उन्होंने इसे कोरोना के साथ लड़ाई में जापान की सफलता के रूप में दिखाने की कोशिश की।

Latest articles

फरीदाबाद में वाहनों की गति होगी हाईवे पर रंबल स्ट्रिप से नियंत्रित, जाने कैसे?

हाईवे पर हादसों की मुख्य वजह तेज रफ्तार है। हाईवे की मुख्य लेन पर...

हल्की बारिश भी नहीं झेल पाती फरीदाबाद की रोड, उखड़ने लगती है सड़क! लोग होते है परेशान

स्मार्ट सिटी में जरा सी बारिश हो जाती है और सड़कें उखड़ जाती हैं।...

मां करती थी मजदूरी, बेटी बनी IAS ऑफिसर, जानिए सफलता की कहानी।

यूपीएससी की परीक्षा दुनिया की सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक मानी जाती है।...

प्राइवेट कंपनी ने एक लाख खाली प्लाटों की बनाई प्रापर्टी आई.डी, पूरी जानकारी न होने के कारण नगर निगम परेशान

शहर की प्रॉपर्टी सर्वे करने वाली कंपनी की गड़बड़ी अभी तक नहीं सुलझी है।...

More like this

फरीदाबाद में वाहनों की गति होगी हाईवे पर रंबल स्ट्रिप से नियंत्रित, जाने कैसे?

हाईवे पर हादसों की मुख्य वजह तेज रफ्तार है। हाईवे की मुख्य लेन पर...

हल्की बारिश भी नहीं झेल पाती फरीदाबाद की रोड, उखड़ने लगती है सड़क! लोग होते है परेशान

स्मार्ट सिटी में जरा सी बारिश हो जाती है और सड़कें उखड़ जाती हैं।...

मां करती थी मजदूरी, बेटी बनी IAS ऑफिसर, जानिए सफलता की कहानी।

यूपीएससी की परीक्षा दुनिया की सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक मानी जाती है।...