Homeमछुआरे के हाथ लगी दुनिया की सबसे बुज़ुर्ग मछली, इस 4 पैरों...

मछुआरे के हाथ लगी दुनिया की सबसे बुज़ुर्ग मछली, इस 4 पैरों वाली मछली को देख वैज्ञानिक हैरान

Array

Published on

इस विश्व में कब कहां क्या मिल जाये किसी को पता नहीं। समुंद्र अपने अंदर करोड़ों राज़ लिए बैठा है। समुद्र की दुनिया कई रहस्यों से भरी हुई है। आए दिन समुद्र के नीचे नए-नए जीवों के मिलने की खबरें सामने आती रहती हैं। ऐसे ही अब एक मछली मिली है जिसको देखकर हर कोई हैरान है। दरअसल, हिंद महासागर में मेडागास्‍कर के तट पर एक 4 पैरों वाली मछली जिंदा पकड़ी गई है। अब तक माना जाता था कि मछलियों की ये प्रजाति विलुप्त हो गई है।

विलुप्त हो चुकी यह मछली सभी को चौंका रही है। जो भी इसे देख रहा है कोई यकीन नहीं कर पा रहा है। दक्षिण अफ्रीका के शार्क पकड़ने वाले शिकारियों का एक समूह जब समुद्र में शिकार करने उतरा, तो उनके हाथ ये मछली लग गई। मछलियों की ये प्रजाति 42 करोड़ साल पुरानी है, यानी उस जमाने की, जब धरती पर डायनासोर भी मौजूद थे।

Coelacanth Fish That Predates Dinosaurs Caught Alive by Shark Hunters in  Madagascar

समुद्र की गहराइयों से मछुआरों को दुनिया की सबसे बूढ़ी मछली मिली है। इससे बूढ़ी मछली शायद ही कभी किसी को मिली हो। 1938 के बाद से इसे देखा नहीं गया था, लेकिन उसके बाद से पहली बार ये मछली जिंदा देखी गई है। मछली की इस प्रजाति का नाम Coelacanth है। मछली के आठ पंख हैं और विशाल शरीर है, जिसपर विशेष धारियां बनी हुई हैं।

मछुआरे के हाथ लगी दुनिया की सबसे बुज़ुर्ग मछली, इस 4 पैरों वाली मछली को देख वैज्ञानिक हैरान

सालों से इस मछली को नहीं देखा गया था। अब यह मछली सभी के सामने आकर बहुत कुछ बयां कर रही है। ये काफी गहराई में रहती है। दरअसल शिकारियों ने शार्क के पंख और तेल की तलाश में एक विशाल जाल ‘जिलनेट’ डाला था। ये जाल करीब 500 फुट नीचे तक जा सकता है। इतनी गहराई तक आम जाल नहीं जाते। लेकिन जिलनेट उस गहराई तक चला गया, जहां इस प्रजाति की मझलियां रहती है, और उनमें से एक जाल में फंस गई।

मछुआरे के हाथ लगी दुनिया की सबसे बुज़ुर्ग मछली, इस 4 पैरों वाली मछली को देख वैज्ञानिक हैरान

वैज्ञानिक इस मछली को देख कर शोध भी कर सकते हैं। इस मछली को 1938 तक विलुप्त माना जाता था लेकिन अब इसके जिंदा पकड़े जाने से वैज्ञानिक हैरानी जता रहे हैं।

Latest articles

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

More like this

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...