HomeEducationहरियाणा सरकार का बढ़ा फैसला राज्य में कॉलेज अगस्त से और जुलाई...

हरियाणा सरकार का बढ़ा फैसला राज्य में कॉलेज अगस्त से और जुलाई में खुलेंगे स्कूल

Published on

फरीदाबाद : हरियाणा सरकार ने स्कूल और कॉलेज खोलने का बड़ा फैसला आखिर कार ले लिया है। शिक्षा मंत्री कंवरपाल गुर्जर ने बताया कि जुलाई में स्कूल और अगस्त में कॉलेज की क्लास‌ शुरू की जाएगी। सोशल डिस्टेनसिंग का किया जाएगा पालन। शिक्षा मंत्री कंवरपाल गुर्जर ने कहा कि भिवानी बोर्ड दसवीं का परीक्षा परिणाम सोमवार को घोषित किया जाएगा |

हरियाणा सरकार का बढ़ा फैसला राज्य में कॉलेज अगस्त से और जुलाई में खुलेंगे स्कूल

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड के अध्यक्ष डॉ जगबीर सिंह ने बताया कि हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड 10वी व बाहरवीं की शेष बची परीक्षाएं भी लेगा ,बता दें कि महामारी और लॉक डाउन के चलते स्थगित हुई थी बोर्ड की परीक्षा । 1 जुलाई से 15 जुलाई के बीच मे परीक्षा होने का अनुमान है | हरियाणा सरकार तीन चरणों में विद्यालयों को खोलेगी। विद्यालय खोलने से पहले डेमो कक्षाएं चलाई जाएंगी। प्रदेश के शिक्षा व पर्यटन मंत्री कंवर पाल गुर्जर से यह जानकारी प्राप्त हो सकी है। उन्होंने कहा कि 10वीं, 11वीं, 12वीं कक्षाएं सबसे पहले शुरू की जाएंगी। छठी से नौवीं कक्षा उसके बाद शुरू करेंगे। अंत में पहली से पांचवी तक की कक्षाएं शुरू करने सरकार सोच रही है |

हरियाणा सरकार का बढ़ा फैसला राज्य में कॉलेज अगस्त से और जुलाई में खुलेंगे स्कूल

प्रदेश सरकार इन बातों पर विचार कर रही है कि आधे बच्चे एक दिन बुलाए जाएंगे और आधे बच्चे अगले दिन। यह भी कहा जा रहा है कि आधे बच्चों को सुबह के समय बुलाया जाए व आधे बच्चों को शाम के समय। जिला स्तर पर कमेटियां बना दी गई है, सुझाव लिए जा रहे हैं। विशेषज्ञों की राय है कि कोरोना महामारी लंबे समय तक रहेगी । महामारी से डर कर बच्चों का भविष्य ख़राब नहीं कर सकते | शिक्षा मंत्री कंवरपाल गुर्जर ने कहा कि जो छात्र 11वीं क्लास में आर्ट और कॉमर्स संकाय लेंगे, उनका परिणाम औसत आधार पर तैयार किया जाएगा। जो विद्यार्थी साइंस संकाय लेंगे, उनका एग्जाम होगा। सोमवार तक दसवीं का रिजल्ट आ जाएगा। 1 से 15 जुलाई तक बारहवीं की परीक्षा होगी।

हरियाणा सरकार का बढ़ा फैसला राज्य में कॉलेज अगस्त से और जुलाई में खुलेंगे स्कूल

कोरोना महामारी सिर्फ उद्योगपतियों के लिए ही नहीं हर छात्र के लिए भी मुसीबत बन कर आई है | इस साल जो छात्र बारहवीं के बोर्ड परीक्षा दे रहे थे उनका सपना सच होने में बहुत समय लग रहा है | हर छात्र बारहवीं के बाद कॉलेज लाइफ के सपने देखता है लेकिन इस साल बारहवीं के छात्र बहुत निराश हैं | शिक्षा के सपने कम और मौज मस्ती के सपने देखने वाले छात्र इस समय यही दुआ कर रहे हैं कि जल्दी से ईश्वर उन्हें कॉलेज में प्रवेश करवा दें |

Written By: Prashant K Sonni

Latest articles

WWE में जमा चुकी है अपनी धाक,  पहली भारतीय महिला रेसलर कविता देवी पर बनेगी फिल्म। जानें पूरी खबर।

कविता देवी, जिन्हें WWE के साथ साइन की गई पहली पेशेवर भारतीय महिला पहलवान के...

फरीदाबाद में वाहनों की गति होगी हाईवे पर रंबल स्ट्रिप से नियंत्रित, जाने कैसे?

हाईवे पर हादसों की मुख्य वजह तेज रफ्तार है। हाईवे की मुख्य लेन पर...

हल्की बारिश भी नहीं झेल पाती फरीदाबाद की रोड, उखड़ने लगती है सड़क! लोग होते है परेशान

स्मार्ट सिटी में जरा सी बारिश हो जाती है और सड़कें उखड़ जाती हैं।...

मां करती थी मजदूरी, बेटी बनी IAS ऑफिसर, जानिए सफलता की कहानी।

यूपीएससी की परीक्षा दुनिया की सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक मानी जाती है।...

More like this

WWE में जमा चुकी है अपनी धाक,  पहली भारतीय महिला रेसलर कविता देवी पर बनेगी फिल्म। जानें पूरी खबर।

कविता देवी, जिन्हें WWE के साथ साइन की गई पहली पेशेवर भारतीय महिला पहलवान के...

फरीदाबाद में वाहनों की गति होगी हाईवे पर रंबल स्ट्रिप से नियंत्रित, जाने कैसे?

हाईवे पर हादसों की मुख्य वजह तेज रफ्तार है। हाईवे की मुख्य लेन पर...

हल्की बारिश भी नहीं झेल पाती फरीदाबाद की रोड, उखड़ने लगती है सड़क! लोग होते है परेशान

स्मार्ट सिटी में जरा सी बारिश हो जाती है और सड़कें उखड़ जाती हैं।...