HomeCrimeपूरी रफ्तार से चल रहा है जिले में सैनिटाइज़ेशन का कार्य, आइसोलेशन...

पूरी रफ्तार से चल रहा है जिले में सैनिटाइज़ेशन का कार्य, आइसोलेशन सेंटर वाले गाँव पर है मुख्य ध्यान

Published on

उपायुक्त यशपाल ने बताया कि जिला में कोविड-19 के संक्रमण को रोकने के लिए जिला प्रशासन द्वारा लगातार कदम उठाए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि अब ग्रामीण क्षेत्रों में सैनिटाइजेशन अभियान पर जोर दिया जा रहा है।

उन्होंने बताया कि रविवार को खंड विकास एवं पंचायत कार्यलय तिगांव , फरीदाबाद और बल्लभगढ़ के तत्वाधान में जिले के ग्रामीण क्षेत्र में बने 50 आइसोलेशन सेंटर वाले गांवो को सेनिटाइज किया गया।

पूरी रफ्तार से चल रहा है जिले में सैनिटाइज़ेशन का कार्य, आइसोलेशन सेंटर वाले गाँव पर है मुख्य ध्यान

उपायुक्त ने बताया कि रविवार को बुआपुर, तिगांव अधाना पट्टी, नागर पट्टी, पनहैरा गांवो को स्प्रे कर सैनिटाइजेशन किया गया किया गया। उपायुक्त यशपाल ने कहा कि पिछले कुछ दिनों में संक्रमण के मामले कम हुए हैं लेकिन इसके बावजूद हमें एहतियात बरतना है। उन्होंने कहा कि शहर में नगर निगम वह ग्रामीण क्षेत्रों में सभी बीडीपीओ को निर्देश दिए गए हैं कि वह सैनिटाइजेशन अभियान को तेजी के साथ करें।

उन्होंने कहा कि जिस जगह से ज्यादा मामले आते हैं वहां विशेष तौर पर अभियान चलाकर सैनिटाइजेशन किया जा रहा है। उन्होंने खंड विकास एवं पंचायत विभाग के नशा करते हुए कहा कि विभाग द्वारा सैनिटाइजेशन व जागरूकता के लिए बेहतरीन कार्य किया गया है। खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी प्रदीप कुमार ने बताया ग्रामीण क्षेत्र में कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए 50 आइसोलेशन सेंटर बनाये गए हैं।

पूरी रफ्तार से चल रहा है जिले में सैनिटाइज़ेशन का कार्य, आइसोलेशन सेंटर वाले गाँव पर है मुख्य ध्यान

उन्होंने बताया कि यहां पर बेड, ऑक्सीमेटर, स्टीमर, इंफ्रारेड थर्मामीटर, और थर्मामीटर की सुविधा दी गयी है। साथ कि इन 50 गांवों को विभाग की तरफ से सेनिटाइज भी करवाया जा रहा है ताकि वायरस को फैलने से रोका जा सके । अब तक जिले के मोहना, छाएसा, अटाली, नरियाला, जवां, सागरपुर ,सुनपेड़, मंधावली, मंझावली, झुग्गी छाएसा, में सेनिटाइजर का छिड़काव करवा चुके हैं।

पूरी रफ्तार से चल रहा है जिले में सैनिटाइज़ेशन का कार्य, आइसोलेशन सेंटर वाले गाँव पर है मुख्य ध्यान

उन्होंने बताया कि गांव के सभी सामुदायिक जगहों, स्कूलों, कॉलेज , सरकारी दफ्तर, बैंक, और बाज़ारो के साथ चौपाल और गलियों को सेनिटाइज किया जा रहा है। साथ ही ग्रामीण क्षेत्र को जागरूक करने के लिए 50 आइसोलेशन वाले गावों में संभार्य फाउंडेशन और सोनू नव चेतना फाउंडेशन द्वारा नुक्कड़ नाटक के जरिये जागरूकता अभियान भी चलाया जा रहा है।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...