Online se Dil tak

विदेश में खुदाई के दौरान मिला 1100 साल पुराना शिवलिंग

भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) ने हाल ही में वियतनाम के चाम मंदिर परिसर में उनके चल रहे संरक्षण परियोजना के दौरान 9 वीं शताब्दी के अखंड बलुआ पत्थर के शिवलिंग की खोज की है। वियतनाम के क्वांग नाम प्रांत में माई सन मंदिर में शिव लिंग की खुदाई की गई थी।

शिव लिंग का पता लगने के बाद, भारत के विदेश मंत्री एस। जयशंकर ने इसे “भारत की विकास साझेदारी का एक महान सांस्कृतिक उदाहरण” कहा। यहां तक ​​कि उन्होंने भारत और वियतनाम के “सभ्यता संबंधी जुड़ाव” की भी सराहना की।

विदेश में खुदाई के दौरान मिला 1100 साल पुराना शिवलिंग
विदेश में खुदाई के दौरान मिला 1100 साल पुराना शिवलिंग

वियतनाम का चाम मंदिर यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थल का हिस्सा है। रिपोर्टों के अनुसार, मंदिर खमेर साम्राज्य के शासक राजा इंद्रवर्मन द्वितीय के शासनकाल के दौरान बनाया गया था। रिपोर्ट के अनुसार, एएसआई की चार सदस्यीय टीम ने परिसर में दो अलग-अलग समूहों में मंदिर में खुदाई की है और अब मंदिरों के तीसरे समूह पर काम कर रही है।

एक अधिकारी ने बताया कि मंदिर परिसर में छह अन्य शिव लिंग भी पाए गए। इससे पहले, श्री राम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने कहा कि यहां राम जन्मभूमि पर हज़ारों वर्ष पुरानी मूर्तियां और बलुआ पत्थर पर नक्काशी की खोज की गई है |

विदेश में खुदाई के दौरान मिला 1100 साल पुराना शिवलिंग
विदेश में खुदाई के दौरान मिला 1100 साल पुराना शिवलिंग

चंपत राय ने कहा, “पिछले दिनों में राम जन्मभूमि पर मलबे को हटाया जा रहा है और भूमि को समतल किया जा रहा है। हमने बलुआ पत्थर पर बने ढांचे और नक्काशी के मलबे में खंभों की खोज की है। टीला में एक प्राचीन शिवलिंग भी मिला है।

साउथ ईस्ट एशिया का खूबसूरत और शांत देश है-वियतनाम। वियतनाम और भारत के बीच सांस्कृतिक संबंध बहुत पुराने हैं। वियतनाम में चौथी से लेकर 13वीं शताब्दी तक की बौद्ध धर्म और हिंदू धर्म के जुड़ी कलाकृतियां पहले भी मिलती रही हैं |

विदेश में खुदाई के दौरान मिला 1100 साल पुराना शिवलिंग
विदेश में खुदाई के दौरान मिला 1100 साल पुराना शिवलिंग

वियतनाम स्थित ‘माई सन मंदिर’ पर हिन्दू प्रभाव है और यहां हिन्दू देवी देवताओं की अनेक मूर्तियां हैं । यह परित्यक्त और आंशिक रूप से ध्वस्त हिन्दू मंदिर हैं। इनका निर्माण चंपा के राजाओं ने चौथी से 14वीं शताब्दी के बीच कराया था। मंदिर परिसर मध्य वियतनाम के क्वांग नाम प्रांत के दुय फू गांव के पास स्थित है। मंदिर परिसर करीब दो किलोमीटर लंबी-चौड़ी घाटी में स्थित है जो दो पहाड़ों से घिरा हुआ है।

सनातन धर्म पर ऊँगली करने वालों पर यह ज़ोर का तमाचा है | भारतीय संस्कृति को दुनिया मानती ही है लेकिन सनातन धर्म के भी लोग दीवाने हुए जा रहे हैं | भागवत कथा से लेकर गीता तक का ज्ञान दुनिया भारत में लेने आती है | हिन्दू धर्म को हमेशा लुप्त किया गया है लेकिन आज दुनिया कोने में लोग गीता के पाठक हैं |

ओम सेठी

Read More

Recent