HomeLife StyleHealthकॉविद कॉल सेंटर में 28 दिन में रिकॉर्ड हुई 3850 कॉल, ऑक्सीजन...

कॉविद कॉल सेंटर में 28 दिन में रिकॉर्ड हुई 3850 कॉल, ऑक्सीजन से ज्यादा रेमडेसिविर की हुई इंक्वायरी

Published on

संक्रमण के बढ़ते प्रभाव और इससे जुड़े पहलुओं या किसी भी प्रकार की समस्या के लिए जिला प्रशासन द्वारा जो कोविड-19 के लिए कॉल सेंटर शुरू किया था उसमें 28 दिन में 3850 कॉल के माध्यम से आमजन की समस्याओं का निस्तारण कॉल सेंटर की टीम द्वारा परिपूर्ण तरीके से किया गया। इस दौरान यह बात सामने निकलकर आई कि लोग ऑक्सीजन सिलेंडर से ज्यादा रेमडेसीविर इंजेक्शन की जानकारी हासिल करने में जुटे हुए हैं।

दरअसल फरीदाबाद के जिला उपायुक्त यशपाल यादव के दिशा निर्देश के बाद से उक्त कोविड-19 कॉल सेंटर की स्थापना की गई थी जिसमें कोविड-19 संबंधित सभी प्रकार की जानकारी उपलब्ध करवाई जा रही थी। कोविड-19 की स्थापना संक्रमण के दूसरे बेब के चलते 28 अप्रैल को करवाई गई थी।

कॉविद कॉल सेंटर में 28 दिन में रिकॉर्ड हुई 3850 कॉल, ऑक्सीजन से ज्यादा रेमडेसिविर की हुई इंक्वायरी

इसमें टोल फ्री नंबर 1950 और चार अतिरिक्त टेलीफोन लाइन हैं जिनमें 0129-2221000, 2221001, 2221002, 22210003 व 22210004 नंबर स्थापित किए गए हैं । इन पर सातों दिन 24 घंटे स्टाफ तैनात है। कॉल सेंटर के नोडल अधिकारी ज्वाइंट कमिश्नर प्रशांत अटकन तथा कोऑर्डिनेटर डॉ. एमपी सिंह को बनाया गया है।

कॉविद कॉल सेंटर में 28 दिन में रिकॉर्ड हुई 3850 कॉल, ऑक्सीजन से ज्यादा रेमडेसिविर की हुई इंक्वायरी

कॉल सेंटर से मिली जानकारी के अनुसार अभी तक 3850 कालरों की समस्याओं का समाधान किया जा चुका है। वैसे तो इस सेंटर की स्थापना के बाद शुरुआती दौर में विवाह शादियों की परमीशन, मूवमेंट पास व ऑक्सीजन प्राप्ति के लिए अधिकतम कॉल आती थीं। बाद में रेमडेसिविर इंजक्शन व लाइफ सेविंग ड्रग्स तथा वेंटिलेटर के लिए कॉल की संख्या बढ़ गई।

कॉविद कॉल सेंटर में 28 दिन में रिकॉर्ड हुई 3850 कॉल, ऑक्सीजन से ज्यादा रेमडेसिविर की हुई इंक्वायरी

लेकिन अब अधिकतम कॉल वैक्सीन लगवाने व सरकारी मदद के लिए आ रही हैं। इसके अलावा डिपो होल्डर से संबंधित कॉल, आपसी मतभेदों के लिए पुलिस की शिकायत भी करते हैं। इसका मतलब यही है कि कहीं ना कहीं यह कोविड-19 जिले वासियों के लिए लाभकारी सिद्ध हुआ है, और लोगों में जागरूकता भी देखी जा सकती है।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...