HomeFaridabadजिले के ग्रामीण क्षेत्रों में बांटे गए मेडिकल किट, मरीज़ घरों में...

जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में बांटे गए मेडिकल किट, मरीज़ घरों में ही दे रहे महामारी को मात

Published on

सीएमओ रणदीप सिंह पुनिया ने बताया कि  ज़िला के हर कोविड लक्षण वाले व्यक्ति तक मेडिकल किट पहुंचाकर समुचित वितरण किया गया।


उन्होंने बताया कि अब तक जिला में 40 हजार से अधिक मेडिकल किटों का वितरण हो चुका है। फरीदाबाद के शहरी वग्रामीण क्षेत्रों में मेडिकल किट(कोविड दवाई) से उपचार व प्रशासन द्वारा गम्भीरता के साथ लोगों में जागरूकता लाने की बदौलत ने ही जिला में महामारी की रफ्तार को धीमा कर दिया है।

जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में बांटे गए मेडिकल किट, मरीज़ घरों में ही दे रहे महामारी को मात

जिससे लगातार पिछले तीन सप्ताह से मामलों में निरन्तर कमी दर्ज की जा रही है। ग्रामीण क्षेत्र में कोविड लक्षण लोगों के लिए मेडिकल किट संजीवनी साबित हो रही है। बुखार, खांस, जुकाम आदि कोरोना लक्षण वाले मरीजों ने मेडिकल किट लेकर घर पर ही उपचार करक महामारी को मात दी है। अब तक जिला के 127 गांवों में लगभग 40 मेडिकल किट का वितरण किया जा चुका है।

जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में बांटे गए मेडिकल किट, मरीज़ घरों में ही दे रहे महामारी को मात


दूसरी लहर में शहर के साथ-साथ ग्रामीण क्षेत्र में कोरोना का फैलाव सरकार व प्रशासन के लिए चिंता विषय बन गया था। सरकार की ओर से ग्रामीण क्षेत्र में कोरोना की रफ्तार को रोकने के लिए आइसोलेशन सैंटर, ट्रेकिंग, टेस्टिंग आदि अनेक प्रभावी कदम उठाए गए हैं।


इसी कड़ी में फरीदाबाद के ग्रामीण क्षेत्र में कोविड लक्षण वाले मरीजों को घर द्वार पर मेडिकल किट का वितरण एक अनूठी पहल प्रशासन द्वारा चिकित्सा विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों के साथ ग्रामीण क्षेत्र के सभी विभागों के सहयोग से की गई, जिसके सार्थक परिणाम सामने आए हैं। जिला प्रशासन के आह्वान पर सामाजिक संस्थाओं,समाज सेवी संगठनों और जनप्रतिनिधियों ने मेडिकल किट तैयार करने में सहयोग किया।

जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में बांटे गए मेडिकल किट, मरीज़ घरों में ही दे रहे महामारी को मात


(बाक्स)
मेडिकल किट की दवाई लेकर घर पर ही दी महामारी को मात :
ग्रामीण क्षेत्र में कोविड लक्षण वाले मरीजों ने घर पर ही मेडिकल दवाईयों से अपना उपचार किया और स्वस्थ हो गए।
जिला कोविड नोडल अधिकारी डाँ रामभगत ने बताया कि उन्होने प्रक्टिशनर चिकित्सकों और चिकित्सा विभाग के ग्रामीण क्षेत्र के स्टाफ के माध्यम से गांव में कोविड लक्षण के लोगों को मेडिकल किट दी थी।

जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में बांटे गए मेडिकल किट, मरीज़ घरों में ही दे रहे महामारी को मात


उन्होंने बताया कि मरीजों ने दवाई का सही उपयोग किया और बचाव उपायों की पालना की, जिससे वे पूरी तरह से स्वस्थ हो गए। उन्होंने बुखार, खांसी आदि कोविड लक्षण थे। इनका मेडिकल दवाईयों से घर पर ही उपचार किया गया।

जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में बांटे गए मेडिकल किट, मरीज़ घरों में ही दे रहे महामारी को मात

कोविड नोडल चिकित्सा अधिकारी  ने बताया कि मेडिकल किट से न केवल लोग घर पर ही स्वस्थ हुए बल्कि इससे संक्रमण की रफ्तार भी धीमी पड़ी है। गांव में ही लोगों को कोरोना का उपचार मिलने के चलते जहां शहर में अस्पतालों पर दबाव कम हुआ, वहीं रिकवरी रेट भी बढा।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...