HomeFaridabadअब प्राइवेट अस्पताल बड़े होटलों के साथ मिलकर नहीं कर सकते वैक्सिनेशन

अब प्राइवेट अस्पताल बड़े होटलों के साथ मिलकर नहीं कर सकते वैक्सिनेशन

Published on

महामारी का दौर जहां एक और कम होता नजर आ रहा है। वहीं लोगों में वैक्सीन लगवाने को लेकर क्रेज भी नजर आ रहा है। जिसके चलते लोग वैक्सीन लगवाने के लिए कोई भी हथकंडा अपना सकते हैं। जहां एक और अस्पताल व मेडिकल स्टोर इस महामारी के दौर में कमाने की होड़ में लगे हुए हैं।

वही 5 स्टार होटल या फिर यू कहे बड़े होटल भी इस महामारी के दौर में किसी ना किसी रूप में कमा रहे हैं। इसी के चलते फाइव स्टार होटलों के द्वारा या फिर यूं कहें बड़े होटलों के द्वारा प्राइवेट अस्पताल से टाइअप करके वैक्सीनेशन पैकेज दिया जा रहा है।

अब प्राइवेट अस्पताल बड़े होटलों के साथ मिलकर नहीं कर सकते वैक्सिनेशन

जिसमें व्यक्ति को वैक्सीन के साथ-साथ 4 से 5 घंटे बड़े होटल के लग्जरी रूम में ठहरने के साथ-साथ सुबह व शाम तक खाना व अन्य सुविधाएं दी जा रही है। लेकिन हेल्थ मिनिस्ट्री के द्वारा इस पर पाबंदी लगा दी गई है। अगर अब कोई बड़े होटलों के साथ मिलकर वैक्सीनेशन पैकेज दे रहे हैं।

तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। हेल्थ मिनिस्ट्री के द्वारा सभी राज्यों को पत्र लिखकर अवगत कराया गया है कि अगर कोई प्राइवेट हॉस्पिटल बड़े होटलों के साथ मिलकर वैक्सीनेशन पैकेज दे रहा है। तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाए।

अब प्राइवेट अस्पताल बड़े होटलों के साथ मिलकर नहीं कर सकते वैक्सिनेशन

क्योंकि यह है नेशनल कोविद वैक्सिनेशन प्रोग्राम के खिलाफ। इसलिए सभी प्राइवेट हॉस्पिटल व बड़े होटलों को आदेश जारी कर दिए गए हैं कि वह अब किसी प्रकार का कोई भी वाक्सिनशन पैकेज लोगों को मुहिया नहीं करवाएंगे।

पत्र में यह भी बताया गया है कि अगर कोई व्यक्ति वैक्सीन कैंप लगा सकता है। तो वह सिर्फ प्राइवेट हॉस्पिटल अपने परिसर के अंदर, सरकारी अस्पताल या प्राइवेट अस्पताल आरडब्लूए, एनजीओ, स्कूल व कॉलेज आदि के सहयोग से उनके परिसर में लगाया जा सकता है।

अब प्राइवेट अस्पताल बड़े होटलों के साथ मिलकर नहीं कर सकते वैक्सिनेशन

इसके अलावा अगर कोई कंपनी अपने कर्मचारियों के लिए वैक्सीनेशन कैंप लगवाना चाहती है तो उसके लिए पहले स्वास्थ्य विभाग से परमिशन लेनी होगी और उसके बाद ही स्वास्थ्य विभाग के द्वारा कैंप का आयोजन किया जाएगा। इन सभी स्थानों के अलावा किसी और जगह पर वैक्सीनेशन नहीं की जाएगी।

अगर कोई इन जगहों के अलावा वैक्सीनेशन करता हुआ पाया गया तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। सूत्रों के अनुसार बताया जा रहा है प्राइवेट हॉस्पिटलों के साथ मिलकर जो बड़े होटलों में वैक्सीनेशन पैकेज दिया जा रहा था उसमें वैक्सीन कांड सामने आया है।

अब प्राइवेट अस्पताल बड़े होटलों के साथ मिलकर नहीं कर सकते वैक्सिनेशन

इसी वजह से सरकार के द्वारा इसको बैन कर दिया गया है। अगर उसके बावजूद भी कोई पैकेज देता हुआ नजर आता है तो उसके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...