HomeFaridabadठेकों पर जाने का कष्ट न करें, अब शराब की होगी होम...

ठेकों पर जाने का कष्ट न करें, अब शराब की होगी होम डिलीवरी

Published on

दिल्ली : महामारी के इस दौर में लॉकडाउन ही एक मात्र सहारा है, संक्रमण से बचने के लिए घरों में रहना ही सबसे बेहतरीन उपाए है। लेकिन पूरे दिन घर में रहना हर किसी के लिए आसान नहीं, पूरे दिन घर में रहना और वो भी कई महीनों तक, ये बेहद मुश्किल कार्य है । भारत में दूसरी बार लॉकडाउन लगने की वजह से लोग फिर से उसी परेशानी से जूझ रहे हैं । लोग अगर घर में रहने का विचार करें तो उन्हें अपने मनोरंजन के लिए भी कुछ न कुछ विचार करते रहते है ।मनोरंजन के लिए रामायण का प्रचारण, महाभारत का प्रचारण इत्यादि शोज की वजह से लोग संस्कृति से भी रूबरू हुए और मनोरंजन भी हुआ । ये सब सिर्फ लोगों को घरों में रोकने के लिए है ।

हमने लॉकडाउन के समय शराब के ठेकों की कुछ ऐसी तस्वीरें देखी, जिन्हे देख के ये कहा जा सकता है की लोग घरों में रहने के लिए शराब पीकर अपना दिन बिता सकते है । इसलिए शायद शराब के ठेकों के लिए नियमों को सोच समझने के बाद लिया जाता है और फिर सरकार भी सबसे अधिक टैक्स शराब की बिक्री से ही हासिल करती है ।

ठेकों पर जाने का कष्ट न करें, अब शराब की होगी होम डिलीवरी

ऑनलाइन मिलेगी शराब, दी गई जानकारी पर संपर्क करें

दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार ने शराब की होम डिलीवरी की मंजूरी दे दी है। न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, दिल्ली सरकार ने देशी और विदेशी दोनों तरह की मदिराओं की होम डिलीवरी की इजाजत दी है। दिल्ली वासी मोबाइल ऐप और ऑनलाइन पोर्टल के जरिए शराब मंगा सकेंगे।

ठेकों पर जाने का कष्ट न करें, अब शराब की होगी होम डिलीवरी

दिल्ली के शराबी लंबे समय से दिल्ली सरकार से शराब की दुकानों को खोलने की मांग कर रहे थे। उम्मीद जताई जा रही थी कि 31 मई से दिल्ली सरकार लॉकडाउन की शर्तों में ढील देते हुए शराब की दुकानों को खोलने की अनुमति देगी। पिछले हफ्ते लॉकडाउन की शर्तों में तो ढील देने की दिल्ली सरकार ने घोषणा की थी लेकिन शराब की दुकानों को खोलने को लेकर कोई बयान नहीं दिया था।

ठेकों पर जाने का कष्ट न करें, अब शराब की होगी होम डिलीवरी
Credit : ANI

शराब की दुकानें खोलने पर दुकानों के बाहर भारी भीड़ इकट्ठा होगी और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं हो सकेगा। इस वजह से शराब की दुकानों को खोलने का फैसला नहीं हो सका था।

Latest articles

NIT क्षेत्र में पानी की किल्लत के समाधान को लेकर FMDA के CEO से मिले विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 29 मई 2024 को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने फरीदाबाद...

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

More like this

NIT क्षेत्र में पानी की किल्लत के समाधान को लेकर FMDA के CEO से मिले विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 29 मई 2024 को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने फरीदाबाद...

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...