HomeFaridabadऑक्सीजन के टैंकर कई दिनों से खड़े हैं स्टेशन पर, प्रशासन नहीं...

ऑक्सीजन के टैंकर कई दिनों से खड़े हैं स्टेशन पर, प्रशासन नहीं ले रहा सुध

Published on

जहां कुछ समय पहले ऑक्सीजन को लेकर पूरे शहर में हाहाकार मचा हुआ था वहीं अब करीब 6 दिन से ऑक्सीजन से भरे टैंकर रेलवे स्टेशन पर खड़े हैं। इनको पूछने वाला कोई नहीं है।


दरअसल, महामारी के दूसरे चरण में ऑक्सीजन को जीवनदायिनी के रूप में देखा गया तथा पूरे देश में ऑक्सीजन को लेकर हाहाकार मच गई थी। जिले में भी मरीज के तीमारदारों को ऑक्सीजन के लिए घंटो घंटो लाइनों में खड़ा होना पड़ा वही अब जिले में ऑक्सीजन को लेकर स्थिति काफी सामान्य है।

जिला प्रशासन की ओर से लोगों तक ऑक्सीजन पहुंचाई जा रही है वहीं अब ऑक्सीजन की अधिकता इतनी ज्यादा हो गई है कि पिछले 6 दिनों से करीब 11 ऑक्सीजन टैंकर रेलवे स्टेशन पर खड़े हैं और इनको कोई पूछने वाला नहीं है।

ऑक्सीजन के टैंकर कई दिनों से खड़े हैं स्टेशन पर, प्रशासन नहीं ले रहा सुध

ड्राइवर और कंडक्टर ऑक्सीजन टैंकर को लेकर परेशान है। यह टैंकर गुजरात के जामनगर और हजीरा व उड़ीसा के राउरकेला तथा अंगुल से आए हैं। प्रत्येक टैंकर में करीब 22 टन ऑक्सीजन है। अब चूंकि जिले में सभी को ऑक्सीजन मिल रही है तो यह ऑक्सीजन टैंकर खाली नहीं हो पा रहे हैं।


गौरतलब है कि ऑक्सीजन को लेकर पूरे जिले में मारामारी देखने को मिल रही थी ऐसे में भारतीय रेलवे की ओर से ऑक्सीजन सप्लाई शुरू की गई। ‌ सप्लाई के तहत पूरे फरीदाबाद में लगभग क्या ऑक्सीजन टैंकर आज तथा लोगों को ऑक्सीजन दी गई। ‌

ऑक्सीजन के टैंकर कई दिनों से खड़े हैं स्टेशन पर, प्रशासन नहीं ले रहा सुध

चूंकि अभी स्थिति सामान्य है तो लोगों को भी ऑक्सीजन की कम जरूरत हो रही है वहीं प्रशासन में अपनी ओर से भरसक प्रयास कर रहा है ऐसे में अब ऑक्सीजन से भरे टैंकर कई कई दिनों तक स्टेशन पर खड़े नजर आ रहे हैं।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...