HomeCrimeऑनलाइन प्यार ने लड़की को बनाया अंधा, 71 हजार का लगा चुना

ऑनलाइन प्यार ने लड़की को बनाया अंधा, 71 हजार का लगा चुना

Published on

कहते है कि प्यार अंधा होता है, लेकिन इतना अंधा होता है कि लड़की लड़के से बिना मिले ही उसको हजारों रूपये सिर्फ प्यार के नाम पर दे देती है। लेकिन उस लड़के ने लड़की से सिर्फ पैसों के लिए ही प्यार किया था।

ऐसा ही एक मामला फरीदाबाद में देखने को मिला जहां लड़की ने लड़के से तो प्यार किया, लेकिन लड़के ने सिर्फ धोखा दिया।

ऑनलाइन प्यार ने लड़की को बनाया अंधा, 71 हजार का लगा चुना

साईबर पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार Rps sector 88 के रहने वाले अंकुर कपूर ने बताया कि उन्होंने अपनी बहन की शादी के लिए जीवनसाथी.काॅम पर अप्लाई किया हुआ था। उसी वेबसाइट पर दिल्ली के रहने वाले विशाल तलवार ने उनकी बहन में इन्ट्रस्ट दिखाया।

जिसके बाद उन्होंने विशाल व उसके अंकल से फोन के जरिए बात की। विशाल का नंबर 6395509791 और उसके अंकल का नंबर 6397960773 यह है। अंकुर ने बताया कि विशाल व उसके अंकल से बात होने के बाद ही उन्होंने विशाल का नंबर अपनी बहन को दिया। ताकि दोंनो अपने करियर की बात आपस मे कर सके।

ऑनलाइन प्यार ने लड़की को बनाया अंधा, 71 हजार का लगा चुना

लगभग 15 दिन इन लोगों कि बात हुई और बात होने के बाद दोनों ने आपस में मिलने की 13 फरवरी तारीख फिक्स कर ली। लेकिन 12 फरवरी को उनके अंकल का फाने आया कि हम लोग 27 फरवरी को मिल पाएंगे। इस दौरान बहन की और लडके ने अपनी मजबुरिया बताकर थोड़े-थोड़े पैसे पेटीएम अकाउंट में ट्रांसफर किया।

जो कि कुल 71500 रूपये है। वह पैसे मिलकर लौटाने वाला था। उस लड़के का पेटीएम नंबर 6395509791 है। उसके बाद दो दिन से उनसे कोई बात नहीं हुई। लडके ने बात करनी बन्द कर दी और वह 27 फरवरी को मिलने भी नहीं आए।

ऑनलाइन प्यार ने लड़की को बनाया अंधा, 71 हजार का लगा चुना

इसके अलावा विशाल के अंकल जिसको वह चाचा बोलते थे। विशाल व उनके चाचा के द्वारा उसकी बहन के साथ धोखा हुआ है। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...