HomeFaridabadमरीजों का परफॉर्मा देखने के बाद ही दिए जाएंगे इंजेक्शन

मरीजों का परफॉर्मा देखने के बाद ही दिए जाएंगे इंजेक्शन

Published on

जैसे-जैसे महामारी का दौर कम होता नजर आ रहा है। वैसे ही ब्लैक फंगल बीमारी के मरीजों की संख्या में इजाफा देखने को मिल रहा है। लेकिन जिस तरह महामारी के द्वार में मरीजों को ऑक्सीजन व बेड की सुविधा नहीं मिल पा रही थी।

वैसे ही ब्लैक फंगल बीमारी के मरीजों को इंजेक्शन नहीं मिल पा रहे हैं। जिसकी वजह से कई मरीजों के ऑपरेशन में देरी आ रही है। वह कई मरीजों की इंजेक्शन समय पर नहीं मिलने की वजह से शरीर के विभिन्न अंग खराब होते हुए नजर आ रहे।

मरीजों का परफॉर्मा देखने के बाद ही दिए जाएंगे इंजेक्शन

हरियाणा में ब्लैक मंगल के मरीजों की संख्या में इजाफा होता जा रहा है, लेकिन इस बीमारी के उपचार में इस्तेमाल होने वाला एंफोटेरेसिन बी इंजेक्शन की शुरुआती दिनों में ही कमी देखने को मिल रही है। जिसके चलते प्रदेश की तकनीकी कमेटी के द्वारा निर्णय लिया गया है कि ब्लैक फंगल के मरीज को मात्र दो ही इंजेक्शन लगाने की अनुमति है।

मरीजों का परफॉर्मा देखने के बाद ही दिए जाएंगे इंजेक्शन

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार ब्लैक फंगल के मरीज को जो इंजेक्शन लगाया जाता है, वह वजन के हिसाब से लगाया जाता है। जो कि उसको दिन में 4 से 6 इंजेक्शन लगाने होते हैं। लेकिन इंजेक्शन की कमी को देखते हुए प्रदेश की तकनीकी कमेटी के द्वारा निर्णय लिया गया है, कि अब मात्र 2 इंजेक्शन लगाने की अनुमति है ।

कालाबाजारी रोकने के लिए बनाई कमेटी

जैसे महामारी के दौर में ऑक्सीजन की कालाबाजारी हो रही थी। उसको रोकने के लिए प्रशासन के द्वारा कमेटी का गठन किया गया। वहीं ब्लैक फंगल बीमारी में इस्तेमाल होने वाले इंजेक्शन की कालाबाजारी को रोकने के लिए प्रदेश स्तरीय कमेटी का गठन किया गया है।

मरीजों का परफॉर्मा देखने के बाद ही दिए जाएंगे इंजेक्शन

जो कि मरीज के परफॉर्मा का आकलन करने के बाद यह निर्णय लेगी कि मरीज को इंजेक्शन की जरूरत है कि नहीं। अगर जरूरत है तो कितने इंजेक्शन की जरूरत है यह कमेटी के सिफारिश के बाद ही मरीज को इंजेक्शन उपलब्ध कराए जाएंगे। 31 मई की बैठक में यह निर्णय लिया गया कि मरीज को दो ही इंजेक्शन लगाने की अनुमति है।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...