HomeUncategorizedमाता वैष्णों देवी मंदिर में लगी भीषण आग, लपटों और काले धुंए...

माता वैष्णों देवी मंदिर में लगी भीषण आग, लपटों और काले धुंए का लगा अम्बार

Published on

कटरा स्थित माता वैष्णो देवी मंदिर मैं आज शाम करीब 4:30 बजे आग लग गई। बताया जा रहा है कि आग माता वैष्णो देवी की गुफा से मात्र 100 मीटर की दूरी पर लगी। कालिका भवन के काउंटर नंबर 2 के पास यह आग लगी। यह वही स्थान है जहाँ माता के लिए चढ़ावा रखा जाता है व पैसो की गिनती की जाती है। इस घटना में कैश काउंटर जलकर पूरी तरह से राख हो गया।

माता वैष्णों देवी मंदिर में लगी भीषण आग, लपटों और काले धुंए का लगा अम्बार

हालांकि बताया जा रहा है कि किसी भी तरह की जान माल की हानि नहीं हुई है।जहां संपत्ति का भारी मात्रा में नुकसान हुआ है वही दो लोगों को मामूली चोटें लगने की खबर सामने आई है। शाम को करीब 4:30 बजे सीआरपीएफ के एक जवान ने इसके बारे में श्राइन बोर्ड को चेतावनी दी कि परिसर में आग लग गई है।

माता वैष्णों देवी मंदिर में लगी भीषण आग, लपटों और काले धुंए का लगा अम्बार

इसके बाद श्राइन बोर्ड ने तुरंत मामले का संज्ञान लेते हुए कार्यवाही शुरू कर दी।बताया जा रहा है कि दमकल विभाग की गाड़ियां लगातार आग पर काबू पाने की कोशिश कर रही हैं श्राइन बोर्ड के सीओ ने बताया कि किसी भी तरह की जान माल की हानि नहीं हुई है व जल्द ही आग पर काबू पा लिया जाएगा। इसके अलावा उन्होंने यह अंदेशा जताया कि वीआईपी गेट के पास शॉर्ट सर्किट की वजह से आग लगी हो सकती है ।

माता वैष्णों देवी मंदिर में लगी भीषण आग, लपटों और काले धुंए का लगा अम्बार

आग इतनी तेज थी कि कई किलोमीटर दूर से ही उसकी लपटें दिखाई दे रही थी और अब दमकल विभाग की गाड़ियां लगातार आग पर काबू पाने की कोशिश कर रही हैं।घटना के बाद फिलहाल यात्रा को रोक दिया गया है और इस पर काबू पाए जाने के बाद यात्रा को फिर से शुरू कर दिया जाएगा।

माता वैष्णों देवी मंदिर में लगी भीषण आग, लपटों और काले धुंए का लगा अम्बार

आपको बता दें मई के महीने में जहां 500 यात्री पहुंचते थे वही अब 6000-7000 श्रद्धालु रोज माता वैष्णो देवी के दर्शन करने के लिए पहुंच रहे हैं।देखने वाली बात यह है कि कटरा जाने वाली कई ट्रेनें रद्द होने के बावजूद भी लोग अपने निजी साधनों से माता वैष्णो देवी की यात्रा करने के लिए जा रहे हैं।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...