HomeCrimeचेक से हुई लाखों की गलत पेमेंट, तो बैंक कर्मचारी कर ने...

चेक से हुई लाखों की गलत पेमेंट, तो बैंक कर्मचारी कर ने लिया सुसाइड

Published on

जब भी हम किसी बैंक से कोई पैसे निकालते हैं तो उसकी पूरी जांच पड़ताल होने के बाद ही बैंक कर्मचारी पैसे देता है लेकिन कई बार बड़ी पेमेंट होती है जिसके लिए बैंक कर्मचारी को पूरी जांच सख्ती से करनी पड़ती है।

लेकिन अगर कोई कस्टमर रोज-रोज बैंक में आकर पैसे निकालता है तो उससे बैंक कर्मचारी की जान पहचान हो जाती है और बैंक कर्मचारी उस पर विश्वास भी कर लेता है। लेकिन कई बार वह विश्वास उसको धोखा देता है।

चेक से हुई लाखों की गलत पेमेंट, तो बैंक कर्मचारी कर ने लिया सुसाइड

ऐसा ही एक मामला फरीदाबाद में देखने को मिला जहां एक बैंक कर्मचारी ने विश्वास के ऊपर चेक से 300000 की पेमेंट कर दी। लेकिन कस्टमर के जो साइंस है वह गलत है। जिसकी वजह से बैंक कर्मचारी पर गलत पेमेंट करने का आरोप बैंक मैनेजर के द्वारा लगाया गया।

थाना तिगांव पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार गांव जुन्हैडा की रहने वाली विध्या देवी ने बताया कि पति शिव कुमार पंजाब नेशनल बैंक मोहना रोड में S.A के पद पर कार्यरत थे। जिनकी करीब 28 साल नौकरी थी। जो कि पिछले 5-6 दिन से काफी परेशान चल रहे थे।

चेक से हुई लाखों की गलत पेमेंट, तो बैंक कर्मचारी कर ने लिया सुसाइड

जब मैने परेशानी के बारे मे पूछा तो उन्होने बतलाया कि दिनांक 03.06.2021 को एक 3,00,000( तीन लाख ) रूपये का चैक द्वारा लेने देन हुआ था। जो चैक व हस्ताक्षर चैक पर गलत थे। वह चैक बैंक मैनेजर अनु अग्रवाल व अन्य कर्मचारियो के द्वारा मुझे केबिन में पीछे से दिया गया था।

जिसकी मैने रूटीन मे पैमेंट कर दी थी। जिसके बारे मे अनु अग्रवाल बैंक मैनेजर ने मुझे बतलाया कि तीन लाख रूपये का लेन देन जो चैक द्वारा हुआ है। वह गलत हुआ है। जिसके चलते उन को दोषी ठहराया गया। उनके पति शिव कुमार ने मैनेजर को कहा कि वह चैक रूटिन की तरह अन्य कर्मचारियों से पास होकर मेरे पास कैबिन में आया है।

चेक से हुई लाखों की गलत पेमेंट, तो बैंक कर्मचारी कर ने लिया सुसाइड

इसमें मेरी कोई गलती नहीं है। इसके बारे में बैंक की सी.सी.टी.वी. फुटेज से भी पता चल गया था। फिर भी बैंक मैनजर अनु अग्रवाल पैसे जमा कराने का दबाव बनाती रही और मैने दबाव में आकर बैंक से लोन लेकर वापिस पैसा बैंक मे जमा करवा दिया।

फिर भी अनु अग्रवाल बैंक मैनेजर ने मुझे 8 जून को अपने कैबिन में बुलाया और सस्पेंड करने व पुलिस कार्यवाही करने की धमकी दे रही है। जिसके चलते मेरे पति ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली । पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस ने बताया कि मृतक की जेब से एक सुसाइड नोट भी मिला है।

Latest articles

NIT क्षेत्र में पानी की किल्लत के समाधान को लेकर FMDA के CEO से मिले विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 29 मई 2024 को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने फरीदाबाद...

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

More like this

NIT क्षेत्र में पानी की किल्लत के समाधान को लेकर FMDA के CEO से मिले विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 29 मई 2024 को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने फरीदाबाद...

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...