HomeFaridabadमहामारी के चलते बीमित व्यक्ति की हुई मृत्यु तो परिवार वालों को...

महामारी के चलते बीमित व्यक्ति की हुई मृत्यु तो परिवार वालों को मिलेगी पेंशन, जानिये क्या पूरी योजना

Published on

अगर आपके किसी परिवार की महामारी की वजह से मृत्यु हुई है। तो यह विभाग पेंशन देगा इसके अलावा अगर वह महामारी से ग्रस्त होकर घर पर ट क्वॉरेंटाइन हुआ है, तो उसको उस बीमित को महीने की पूरी सैलरी भी दी जाएगी।

यह इस विभाग के द्वारा आदेश जारी किए गए हैं। जी हां हम बात कर रहे हैं कि ई एस आई सी यानी कर्मचारी राज्य बीमा निगम। इस महामारी के दौर में कर्मचारी राज्य बीमा निगम के द्वारा बीमित व्यक्तियों के परिवार वालों के लिए एक राहत के आदेश किए गए हैं।

महामारी के चलते बीमित व्यक्ति की हुई मृत्यु तो परिवार वालों को मिलेगी पेंशन, जानिये क्या पूरी योजना

जिसमें उन्होंने कहा है कि ईएसआईसी की ओर से महामाई के चलते अपनी जान गवा चुके। बीमित व्यक्ति व आश्रित परिवार को पेंशन दी जाएगी। इसके अलावा अगर कोई पीड़ित व्यक्ति महामारी से ग्रस्त होकर घर पर क्वॉरेंटाइन हुआ है तो उसको उस महीने की पूरी सैलरी भी दी जाएगी।

कर्मचारी राज्य बीमा निगम, हरियाणा के अपर आयुक्त एवं क्षेत्रीय निदेशक मोहम्मद इरफानने बताया कि जिले में करीब साढ़े 5 लाख लोग ईएसआई कार्ड होल्डर है। महामारी की दूसरी लहरके चलते जिले के कई लोगों को अपनी जान गवानी पड़ी। वहीं अगर कोई ईएसआईसी का बीमित व्यक्ति महामारी चपेट में आता है और उसकी मृत्यु हो जाती है।

महामारी के चलते बीमित व्यक्ति की हुई मृत्यु तो परिवार वालों को मिलेगी पेंशन, जानिये क्या पूरी योजना

तो उनके परिवार को मासिक पेंशन के समान हितलाभ और उसी वेतनमान में प्राप्त करने का हकदार होगा। जैसा कि उन बीमाकृत व्यक्तियों के आश्रितों द्वारा प्राप्त किया जाता है। जिनकी मृत्यु नौकरी के दौरान होती है। बीमाकृत व्यक्ति, जो पात्रता शर्तों को पूरा करेंगे वह और उनके आश्रित, औसत दैनिक मजदूरी के 90 फीसदी की दर से मासिक भुगतान जीवनभर ले सकेंगे।

इन दिनों का करो पालन

  • अगर किसी बीमित व्यक्ति को कोविड-19 का निदान चाहिए है, तो उसका रजिस्ट्रेशन 3 महीने पहले ईएसआईसी ऑनलाइन पोर्टल पर होना चाहिए ।
  • अगर कोई बीमित व्यक्ति महामारी से ग्रस्त होकर को महसूस में पर रहता है और वह 14 दिन में ठीक हो जाता है तो उस व्यक्ति को जिस दिन में ठीक हुआ था उस दिन कंपनी में ज्वाइन करना होगा और 70 दिन की अवधि के के लिए अनुदान का भुगतान किया गया हो ।

Latest articles

NIT क्षेत्र में पानी की किल्लत के समाधान को लेकर FMDA के CEO से मिले विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 29 मई 2024 को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने फरीदाबाद...

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

More like this

NIT क्षेत्र में पानी की किल्लत के समाधान को लेकर FMDA के CEO से मिले विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 29 मई 2024 को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने फरीदाबाद...

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...