HomePoliticsकिसानों को लेकर अनिल विज का बयान, कृषि कानून की लड़ाई नही...

किसानों को लेकर अनिल विज का बयान, कृषि कानून की लड़ाई नही कुछ और एजेंडा बन गया आंदोलन

Published on

हरियाणा : सरकार और किसानों के बीच में अभी भी किसी भी प्रकार का कोई संघर्ष नहीं निकल पाया है एक अरसे से दोनों के बीच में बातचीत का दौर भी बंद है ऐसे में इस मामले को हल करने के लिए हरियाणा के गृह मंत्री ने केंद्र सरकार को पत्र भी लिखा था लेकिन इस मामले को लेकर अब हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज एक बार फिर से बड़ा बयान दे गए हैं

विज ने कहा है कि यह आशंका जताई जा रही है कि किसानों का मुख्य एजेंडा कृषि कानून ना रहकर कुछ और ही हो गया है उन्होंने कहा कि किसान अभी तक एक बार भी यह बात स्पष्ट नहीं कर पाए हैं कि उनको समस्या किस बात से हैं इन सब बातों पर गौर करते हुए लगता है कि इनका एजेंडा कृषि कानून नहीं बल्कि कुछ और ही है

किसानों को लेकर अनिल विज का बयान, कृषि कानून की लड़ाई नही कुछ और एजेंडा बन गया आंदोलन

साथ ही महामारी की डोज पर बात करते हुए उन्होंने कहा कि प्राइवेट अस्पतालों में वैक्सीन फ्री ना लगाए जाने को लेकर राहुल गांधी ने सवाल खड़े किए हैं इसके जवाब में अनिल विज ने राहुल गांधी पर हमलावर होते हुए कहा कि राहुल गांधी अब हर रोज ऐसा प्रश्न निकाल कर लाते हैं

जिसकी वजह से इनकी पार्टी के लोग इन्हें छोड़कर जाने लगे हैं पार्टी का नेता इस कदर नासमझ है कि उनको पता ही नहीं है कि कौन सी बात कब और किससे कहा कहनी है प्राइवेट अस्पतालों में व्यवस्थाएं अलग है

किसानों को लेकर अनिल विज का बयान, कृषि कानून की लड़ाई नही कुछ और एजेंडा बन गया आंदोलन

वहां भी टीका लगवा सकता है हरियाणा में 45+ और 18+ के बीच की दीवार भी समाप्त कर दी जाएगी जानकारी देते हुए उन्होंने बताया की पीएम ने परिवार का मुखिया होने के नाते सभी को टीकाकरण की घोषणा की है विज ने कहा कि जो लोग टीकाकरण को लेकर मजाक करते हैं उन्हें बताया कि अब तक कोई फर्क नहीं रह गया है सभी को वैक्सीन मुफ्त दी जाएंगी।

कांग्रेस छोड़ रहे हैं लोग

अनिल विज ने कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा कि उनकर नेता को ऐसे सवाल आते हैं जिससे उनकी पार्टी को लोग छोड़ कर जा रहे हैं बताते की अनिल विज ने यह बात इसलिये कही क्योंकि भारतीय जनता पार्टी ने कांग्रेस पार्टी को बड़ा झटका दिया है। कांग्रेस के पूर्व सांसद जितिन प्रसाद भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए हैं।

किसानों को लेकर अनिल विज का बयान, कृषि कानून की लड़ाई नही कुछ और एजेंडा बन गया आंदोलन

उन्होंने भाजपा मुख्यालय में रेल मंत्री पीयूष गोयल की मौजूदगी में पार्टी का दामन थामा। भाजपा मुख्यालय पहुंचने से पहले जितिन प्रसाद ने भाजपा के चाणक्य अमित शाह से उनके निवास पर मुलाकात की। इस दौरान रेल मंत्री पीयूष गोयल भी उनके साथ मौजूद थे। जितिन प्रसाद दो बार कांग्रेस के टिकट पर यूपी से दो बार सांसद चुने जा चुके हैं।

इस मौके पर जितिन प्रसाद ने भाजपा के अध्यक्ष जेपी नड्डा, पीएम नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह को पार्टी में शामिल करने पर धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा, “ये मेरे जीवन में नया अध्याय है। मेरे कांग्रेस पार्टी से 3 पीढ़ियों का जुड़ाव रहा है। मैंने बहुत सोच समझ के ये निर्णय लिया है।” उन्होंने कहा कि आज कोई असली मायने में कोई राजनीतिक दल है तो वो भाजपा है। बाकी दल तो व्यक्ति विशेष या क्षेत्र के हो गए हैं मगर राष्ट्रीय दल के नाम पर कोई दल है तो वो भाजपा है।

जितिन प्रसाद ने कहा कि पीएम रात दिन देश की सेवा में लगे हुए हैं। वो नए भारत का निर्माण कर रहे हैं, उसमें मुझे ही एक छोटा सा योगदान करने का अवसर मिलेगा।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...