Homeछोटी सी उम्र में शुरु किया था अपना कारोबार, आज कंपनी का...

छोटी सी उम्र में शुरु किया था अपना कारोबार, आज कंपनी का टर्नओवर 110 करोड़ से भी अधिक

Array

Published on

कुछ बड़ा करने के लिए उम्र का बड़ा होना ज़रा भी ज़रूरी नहीं है। बस इच्छाशक्ति होनी चाहिए। 24 साल की उम्र में देविता सर्राफ ने अपना बिजनेस शुरू किया था। उनकी कंपनी आज 110 करोड़ का टर्नओवर कर रही है। देविता ने बिजनेस की दुनिया में अपना डंका बजवा दिया। मुंबई की रहने वाली देविता के पिता राजकुमार सर्राफ भी एक बिजनेसमैन है। जेनिथ कंप्यूटर के नाम से उनका खुद का बिजनेस है।

महिलाओं के लिए देवीता एक प्रेरणा बन गयी हैं। महिलाओं को अगर अपनी प्रतिभा दिखाने का मौका दिया जाए तो वह पूरी दुनिया में अपना डंका बजा सकती है। ऐसी ही महिला हैं देविता सर्राफ। मुंंबई में शुरुआती शिक्षा ग्रहण करने के बाद देविता ने उच्च शिक्षा के लिए विदेश का रूख किया।

छोटी सी उम्र में शुरु किया था अपना कारोबार, आज कंपनी का टर्नओवर 110 करोड़ से भी अधिक

आपका हौसला बुलंद होना चाहिए मुकाम तो मिल ही जाता है। इंसान को कभी हार नहीं माननी चाहिए। 24 साल की आयु में देविता ने अपने पिता का बिजनेस ज्वाइंन किया। लेकिन फैमिली बिजनेस में उनका मन नहीं लगा। वह शुरुआत से ही कुछ अलग करना चाहती थी। इसलिए उन्होंने तकनीकी की रफ्तार को देखते हुए यूवी टेलीविजन नाम से शानदार टीवी रेंज बनाने वाली कंपनी की शुरुआत की। इस कंपनी के बैनर तले उन्होंने कंप्यूटर और नया टीवी बनाने का काम शुरू किया।

छोटी सी उम्र में शुरु किया था अपना कारोबार, आज कंपनी का टर्नओवर 110 करोड़ से भी अधिक

देवीता को खुद पर भरोसा था। यदि आप किसी क्षेत्र में सफलता चाहते हैं तो इसे अपना लक्ष्य ना बनाइये, सिर्फ वो करिए जो करना आपको अच्छा लगता है जब हम ऐसा करते हैं तो सबकुछ हासिल हो जाता है। यूवी टीवी को वाटरप्रूफ के साथ साथ टच स्क्रीन टैक्नॉलोजी के साथ जोड़ा गया। ऐसे फीचर दिए गए, जिसमे हॉटस्टार और यूट्यूब को आसानी से शुरू किया जा सके। यह कं पनी एन्ड्रोयड टीवी का भी निर्माण करती है।

छोटी सी उम्र में शुरु किया था अपना कारोबार, आज कंपनी का टर्नओवर 110 करोड़ से भी अधिक

जो लोग महिलाओं को कमज़ोर समझते हैं उनके लिए देविता की सफलता ही सबकुछ बयां करती है। आज पुरुषों से आगे महिलाएं निकल रही हैं। देविता सभी के लिए प्रेरणा बनी हैं।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...