HomeFaridabadसुरक्षित हरियाणा के नाम पर एक बार फिर बढ़ाई गई लॉकडाउन की...

सुरक्षित हरियाणा के नाम पर एक बार फिर बढ़ाई गई लॉकडाउन की समयावधि, इस बार लोगों को मिली है यह बड़ी राहत

Published on

हरियाणा में राज्य सरकार ने लॉकडाउन की अवधि को एक सप्ताह के लिए और बढ़ा दिया है। इस बार लगे लॉकडाउन में सरकार ने लोगों को काफ़ी राहत दी है। विशेष तौर पर सरकार ने दुकानदारों को बड़ी राहत देते हुए 21 जून तक महामारी अलर्ट-सुरक्षित हरियाणा के नाम लॉकडाउन की अवधि बढ़ाई है।

हरियाणा सरकार ने दुकानों के लिए आड-ईवन सिस्टम खत्म कर दिया। यानी अब हर रोज सभी तरह की दुकानें खुल सकेंगी। दुकानें शाम 8 बजे तक खोली जा सकेंगी, लेकिन राज्य में नाइट कर्फ्यू जारी रहेगा। बाजार की दुकानें खुलने का समय सुबह नौ बजे पूर्व की तरह रहेगा।

गली-मोहल्लों की दुकानें, दूध, फल-सब्जी, किरयाना व दवा दुकानें पूर्व की हिदायतों के अनुसार खोली जाती रहेंगी। किसी भी सामूहिक कार्यक्रम के आयोजन लिए 50 लोगों की संख्या सीमित की गई है। इससे अधिक की संख्या में किसी भी कार्यक्रम के लिए जिला प्रशासन की अनुमति अनिवार्य होगी।

सुरक्षित हरियाणा के नाम पर एक बार फिर बढ़ाई गई लॉकडाउन की समयावधि, इस बार लोगों को मिली है यह बड़ी राहत

निजी वाणिज्यिक कार्यालयों को 50 प्रतिशत कर्मचारियों के साथ खोले जाने की अनुमति प्रदान की गई है, हालांकि ऐसे सभी कार्यालयों में महामारी की हिदायतों का पालन प्रभावी रूप से करना होगा। सभी हिदायतों की सख्त अनुपालना के साथ शापिंग माल भी सुबह 10 बजे से रात आठ बजे तक खोले जा सकेंगे।

होटल व माल में स्थित रेस्टोरेंट व बार अथवा अन्य स्थानों पर स्थित रेस्टोरेंट व बार सुबह 10 बजे से रात आठ बजे तक खोले जा सकेंगे। इन्हें भी महामारी हिदायतों की अनुपालना व लोगों की 50 प्रतिशत क्षमता के साथ ही खोलने की अनुमति दी गई है।

सुरक्षित हरियाणा के नाम पर एक बार फिर बढ़ाई गई लॉकडाउन की समयावधि, इस बार लोगों को मिली है यह बड़ी राहत

हरियाणा के मुख्य सचिव विजयवर्धन की ओर से जारी आदेशों में कहा गया है कि होटल, रेस्टोरेंट व फास्ट फूड प्रतिष्ठान संचालकों को रात्रि 10 बजे तक होम डिलीवरी की अनुमति दी गई है। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने बताया कि धार्मिक स्थल एक समय में 21 लोगों की अधिकतम सीमा के साथ खोले जा सकेंगे।

धार्मिक स्थलों पर सामाजिक दूरी, मास्क व महामारी की अन्य हिदायतों की पालना करनी होगी। इन कार्यक्रमों व धार्मिक स्थलों पर 21 लोगों के बाद अगले 21 लोग इकट्ठा हो सकते हैं। शादी समारोह में व अंतिम संस्कार के लिए 21 व्यक्ति सभी हिदायतों के साथ एकत्रित हो सकेंगे। शादी समारोह के लिए बारात की अनुमति नहीं होगी।

Latest articles

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

More like this

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...