HomeUncategorizedExoskeleton: चीनियों को मिलेगा मुहतोड़ जवाब, DRDO ने जवानों के लिए तैयार...

Exoskeleton: चीनियों को मिलेगा मुहतोड़ जवाब, DRDO ने जवानों के लिए तैयार किया ब्रह्मास्त्र

Published on

Exoskeleton Suit :- चीन सरकार हमेशा से सीमा पर विवाद को लेकर आशंकाओं से घिरी रही है। पिछले साल मई से ही चीन और भारत के जवान आमने सामने सीमा पर एक दूसरे के सामने खड़े हुए है। जहाँ अरुणाचल प्रदेश के कई इलाकों को चीन अपना हिस्सा बताता आ रहा है, वही भारत सरकार इस बात पर दृढ़ है कि यह सभी इलाके हमेशा से भारत के है और भारत के ही रहेंगे।

ऐसे में चीन और भारत के बढ़ते तनाव के बीच, जवानों की सुरक्षा व उन्हें नए उपकरण मुहैय्या कराना सरकार का प्रथम कर्तव्य बन चुका है।और इसी कड़ी में DRDO ने सभी जवानों के लिए कुछ ऐसा विकसित किया है जो चीनियों के खिलाफ ब्रह्मास्त्र साबित हो सकता है।

Exoskeleton: चीनियों को मिलेगा मुहतोड़ जवाब, DRDO ने जवानों के लिए तैयार किया ब्रह्मास्त्र

Exoskeleton सूट आधुनिक सैन्य बलों के उपकरणों के रूप में पूरी दुनिया मे तेज़ी से उभरकर सामने आया है। भारत मे इस तकनीक का बेसब्री से इंतज़ार किया जा रहा है।पिछले कई वर्षों से डीआरडीओ इस तकनीक के ऊपर अनुसंधान कार्य कर रहा था।

अर्धसैन्य बलों के लिए अच्छी खबर निकल कर सामने आई है डीआरडीओ के एक उच्च अधिकारी की मानें तो एक्सोस्केलेटिन सूट तैयार हो चुके हैं और जल्द ही इन्हें ट्रायल के लिए जवानों को दिया जाएगा।

Exoskeleton: चीनियों को मिलेगा मुहतोड़ जवाब, DRDO ने जवानों के लिए तैयार किया ब्रह्मास्त्र

Exoskeleton सूट एक बहुत ही पतली परत का सूट होता है, जो कई मोटर और हाइड्रोलिक्स की मदद से जवानों को चलने फिरने में शक्ति प्रदान करेगा।

क्या है ये Exoskeleton सूट

Exoskeleton सूट मोटर्स की मदद से जवानों को शक्ति वह प्रतिरोधक क्षमता प्रदान करता है इससे जवानों को अनेक गतिविधियों के लिए जैसे भारी सामान उठाना व गंभीर रूप से घायल जवानों की मदद करने में अत्यंत आवश्यक साबित हो सकता है।

Exoskeleton: चीनियों को मिलेगा मुहतोड़ जवाब, DRDO ने जवानों के लिए तैयार किया ब्रह्मास्त्र

चीन के साथ बढ़ते सीमा विवाद के समय पर इसका आना और महत्वपूर्ण माना जा रहा है। क्योंकि ज़्यादातर इलाके अधिक ऊँचाई पर है, जहाँ सैन्यबलों को साँस लेने के लिए भी झूझना पड़ता है।

Exoskeleton

हालाँकि चीन के वास पहले से यह तकनीक मौजूद है परंतु अगर एक्सपर्ट्स की माने तो भारत में बनी हुई एक्सोस्केलेटिन टेक्नोलॉजी और ज्यादा आधुनिक है जिसमें 5 से 6 घंटे के बैटरी बैकअप में जवान 100 किलो तक का भार उठा पाएगा, इसके अलावा सांस की कमी से होने वाली घबराहट व थकान से भी यह सैनिकों को राहत देगा इसके अलावा सैनिकों को चोट से उबरने में भी यह बहुत मदद करेगा।

माइनस 42 डिग्री जैसे तापमान में यह सूट किसी वरदान से कम साबित नहीं होगा।आपको बता दें कि अभी हाल ही में चीन ने अपने सैन्य बलों की तैनाती में बदलाव किया क्योंकि उनके सैनिक वहां के मौसम को नहीं झेल पा रहे थे जबकि भारत के जवान डटकर आज की सीमा पर खड़े हुए है।

Exoskeleton: चीनियों को मिलेगा मुहतोड़ जवाब, DRDO ने जवानों के लिए तैयार किया ब्रह्मास्त्र

यह दिखाता है कि भारत के जवान किस मिट्टी के बने है कि जमा देने वाली ठंड में भी वह अपने फ़र्ज़ पर कुर्बान है और वही चीनी सैनिक इस बल प्रदर्शन को देखकर काँपने लगे है।ऐसे मे Exoskeleton सूट से भारतीय जवानों की शक्ति चार गुना बढ़ जाएगी।

DRDO ने हाल ही में इसका डिजाइन लांच किया और कहा है कि जल्द ही इन्हें सैनिकों को ट्रायल के लिए दिया जाएगा जिससे रणभूमि में इसके प्रभाव का पता चल सके।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...