HomeFaridabadखोरी में पुलिस और स्थानीय लोगों के बीच हुई झड़प, पुलिस ने...

खोरी में पुलिस और स्थानीय लोगों के बीच हुई झड़प, पुलिस ने हल्के बल का किया प्रयोग

Published on

खोरी गांव में अपना मकान टूटने के सदमे में एक व्यक्ति ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। शव लेने जब पुलिस मौके पर पहुंची तो स्थानीय लोगों ने विरोध करना शुरू कर दिया। पुलिस और स्थानीय लोगों के बीच करीब पांच मिनट तक झड़प भी हुई। इसके बाद पुलिस ने सख्ती दिखाते हुए शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है।

दरअसल, अवैध रूप से बसी खोरी गांव में तोड़फोड़ के आदेश सुप्रीम कोर्ट ने दिए है। जिसका स्थानीय लोग विरोध कर रहे है और रो-बिलख रहे है। वहीं कुछ लोग पुनर्वास की मांग कर रहे है। खोरी के स्थानीय निवासी ने अपना घर टूटने के सदमे में आत्महत्या कर ली है। जानकरी के मुताबिक मृतक की पहचान गणेशीलाल (72) के रूप में हुई है।

खोरी में पुलिस और स्थानीय लोगों के बीच हुई झड़प, पुलिस ने हल्के बल का किया प्रयोग

परिजनों के अनुसार एक महीने पहले ही उन्होंने अपना मकान दो लाख रुपए खर्च कर बनवाया था। इसके पहले कच्चे मकान में रहते थे। इनके दो बेटे और उनकी बहुएं भी साथ रहती है। मृतक मूल रूप से यूपी के मेरठ के रहने वाले थे।

परिजनाें के मुताबिक गणेशीलाल करीब 15 साल से खोरी काॅलोनी में कच्चा मकान बनाकर रहते थे। करीब 100 गज जमीन इनके पास थी। एक महीने पहले ही उन्होंने उस जमीन पर दो कमरे बनवाया था। मृतक खाट बुनने का काम करते थे।

खोरी में पुलिस और स्थानीय लोगों के बीच हुई झड़प, पुलिस ने हल्के बल का किया प्रयोग

अब सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर सभी मकानों को तोड़ने की तैयारी हाे रही है। इस बात से गणेशीलाल परेशान रहते थे। मंगलवार की रात करीब ढाई बजे उठे और बाहर गेट पर कुंडी लगा करीब पचास मीटर दूर स्थित पेड़ के पास पहुंचकर वहां फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। सुबह जब लोगों ने देखा तो उनके बेटे राकेश और राजेश को सूचना दी।

पुलिस और स्थानीय लोगों के बीच झड़प
आत्महत्या करने की सूचना मिलते ही सूरजकुंड पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेने का प्रयास किया। मिली जानकारी के अनुसार पुलिस काे देखकर आसपास के लोग आक्रोशित हो गए और बहसबाजी शुरू हुई और करीब पांच मिनट तक झड़प होती रही।

मामला बिगड़ता देख पुलिस ने हल्का बल प्रयोग कर लोगों को भगाया और शव को लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। परिजन की शिकायत पर जमीन बेचने वाले भू माफिया के खिलाफ आत्महत्या करने के लिए मजबूर करने का केस दर्ज कर लिया है। उसकी पहचान करने का प्रयास किया जा रहा है।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...