HomeFaridabadबल्लभगढ़ की यादव कॉलोनी कैसे बनी सीवर कॉलोनी ?

बल्लभगढ़ की यादव कॉलोनी कैसे बनी सीवर कॉलोनी ?

Published on

फरीदाबाद : बल्लभगढ़ विधानसभा क्षेत्र की बात करें तो यहां के नेताओं का ये दावा है की उनके इस क्षेत्र में सुविधाओ की कोई कमी नहीं लेकिन दूसरी तरफ इस क्षेत्र की समस्याएं दिन दुगनी और रात चौगनी बढ़ती नजर आ रही है ।

आज हम आपको वार्ड नंबर 39 के हालातों से रूबरू कराने जा रहें है ।जिसमे आपको पता चलेगा की किस प्रकार लोग यहां पिछले कई दिनों से अधिकारियों की लापरवाही का खामियाजा भुगत रहें हैं ।

बल्लभगढ़ की यादव कॉलोनी कैसे बनी सीवर कॉलोनी ?

वार्ड नंबर 39 में आने वाली यादव कॉलोनी के निवासी ने अपनी समस्याओं को हमसे बताते हुए कहा की इस कॉलोनी में सीवर नहीं बल्कि सीवर में कॉलोनी हैं । समस्या की तस्वीरें से अधिकारियों की लापरवाही और नेताओं के झूठे वादे छलक रहें है ।

बल्लभगढ़ की यादव कॉलोनी कैसे बनी सीवर कॉलोनी ?

युवक ने अपने इलाके की समस्या को हमसे सांझा करते हुए ये भी कहा की यहां कभी भी निगम का कोई कर्मचारी साफ सफाई के लिए नहीं आता कई कई दिनों तक नालियां भरी रहती थी । जिसके बाद आस पास के लोगों ने अपनी गली की सफाई की जिम्मेदारी मजबूरी में खुद संभाली लेकिन सवाल ये ये उठता है फिर निगम जनता से चार्जेस क्यों वसूलता है जब उनके कर्मचारी यहां सफाई करने आते ही नहीं ।

बल्लभगढ़ की यादव कॉलोनी कैसे बनी सीवर कॉलोनी ?

नालियों की समस्या से तो आपस में लोगों ने मिलकर समस्या का समाधान निकाल लिया लेकिन सीवर का गंदा पानी जो सड़कों पर बह रहा है अब लोगों के दरवाजों तक पहुंच गया है । अब इस समस्या के समाधान के लिए लोगों द्वारा आपसी मेल से भी हल नहीं निकला जा सकता ।ऐसे में कॉलोनी के लोगों ने मिलकर इसकी शिकायतें दर्ज करने का निश्चय किया और मौजूदा पार्षद के पास जाकर अपनी गुहार लगाई लेकिन फिर भी अभी तक भी कोई हल नहीं निकल सका है ।

यदि इसी प्रकार लोगों की समस्याओं को नज़र अंदाज़ किया जाएगा तो फरीदाबाद कैसे स्मार्ट सिटी बन पाएगा ।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...