HomeGovernmentसरकार ने छीनी छत, भू माफियाओं ने वसूली के लिए खोरी में...

सरकार ने छीनी छत, भू माफियाओं ने वसूली के लिए खोरी में अपनाएं सारे हथकंडे

Published on

सरकारी जमीन पर अपने झंडे गाड़ कर अवैध कब्जा कर लोगों से वसूली करने का सिलसिला अभी भी भू माफियाओं द्वारा निरंतर बना हुआ है। एक तरफ कभी भी यहां बुलडोजर चल जमीन ध्वस्त हो सकती हैं। लोगों के पास अपना सामान सुरक्षित करने का कोई जरिया नहीं बचा है।

इतना सब कुछ देखने सुनने के बावजूद भी भू माफियाओं का कारनामा यहां तक पहुंच गया है कि अपने गुर्गों को भेजकर खोरी निवासी से बकाया वसूल करने के लिए चक्कर लगवाए जा रहे हैं।

सरकार ने छीनी छत, भू माफियाओं ने वसूली के लिए खोरी में अपनाएं सारे हथकंडे

दरअसल, ऐसा ही मामला सोमवार को उजागर हुआ, जहां भू माफिया के लोग विश्वकर्मा चौक के पास पहुंचकर एक व्यक्ति से बकाए पैसों की मांग करते दिखे और पैसे न देने पर उसके साथ जमकर पिटाई की।

जब यह सब होता हुआ देख स्थानीय लोगों ने जब विरोध किया तो वह बाइक लेकर फरार हो गया। वीडियो वायरल होने के बाद भी पुलिस अभी तक उक्त भू माफिया की तलाश नहीं कर पाई है।

सरकार ने छीनी छत, भू माफियाओं ने वसूली के लिए खोरी में अपनाएं सारे हथकंडे

मिली जानकारी के मुताबिक खोरी कॉलोनी में विश्वकर्मा चौक के पास सूरजपाल नामक व्यक्ति ने भी जमीन माफिया से खरीदी थी। जब वह दीवार बना रहे थे तो माफिया के आदमी आकर उससे पैसे ले गए थे। अब चूंकि कॉलोनी पर बुल्डोजर चलााने की तैयारी है फिर भी माफियाओं का किश्त वूसली जारी है।

सोमवार को बाइक पर दो लेाग पहुंचे और सूरजपाल से पैसे मांगे। उसने कहा कि मालकिन अभी नहीं है। इतना कहते ही दोनों ने सूरजपाल के साथ गाली गलौज करते हुए थप्पड़ मारना शुरू कर दिया। मारपीट करने वाले का नाम तेजवीर गुर्जर बताया जा रहा है।

सरकार ने छीनी छत, भू माफियाओं ने वसूली के लिए खोरी में अपनाएं सारे हथकंडे

इस घटना के बाद से खोरी कॉलोनी में पुलिस के प्रति आक्रोश है। लोगों का कहना है कि कॉलोनी के चारों ओर पुलिस बैरीगेट कर आवाजाही बंद कर दी है, फिर भी भूमाफिया पुलिस को चकमा देकर कॉलोनी में आ रहे और लोगों को डरा धमका कर मारपीट कर बकाया वसूल रहे हैं। उधर, डीसीपी अंशुल सिंगला का कहना है कि उन्हें वायरल वीडियो की जानकारी नहीं है। यदि ऐसा है तो उसकी जांच कराई जाएगी।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...