HomeCrimeफरीदाबाद में दिखा हाईप्रोफ़ाइल ठगी का मामला, बाल-बाल बचे मानव रचना के...

फरीदाबाद में दिखा हाईप्रोफ़ाइल ठगी का मामला, बाल-बाल बचे मानव रचना के संस्थापक डॉ. प्रशान्त भल्ला

Published on

फरीदाबाद : लोग ठगी के लिए कितने और कैसे -कैसे रस्ते अपनाते है इस बात का तो पहले से ही अंदाज़ा था लेकिन अभी हाल ही में ठगो द्वारा बड़ा ही सनसनीखेज मामला सामने आया है इसमें किसी व्यक्ति के झूठे प्रमाण पत्र बना इंसोरेंस का पैसा लूटने का मामला सुनने में आया है। जिसने पुरे फरीदाबाद में खलबली मचा दी.

फरीदाबाद के बहुचर्चित शिक्षण संसथान मानव रचना के संस्थापक डॉ. प्रशांत भल्ला के परिवार की नींद उस दिन उड गई जब उनकी पत्नी दीपिका भल्ला के पास इंसोरेंस कंपनी वाले जाँच करने के घर पर आ गए ।

फरीदाबाद में दिखा हाईप्रोफ़ाइल ठगी का मामला, बाल-बाल बचे मानव रचना के संस्थापक डॉ. प्रशान्त भल्ला

बता दें कि मानव रचना के मालिक डॉ . प्रशांत भल्ला की इंश्योरेंस पॉलिसी के करोड़ों रुपए हड़पने के चक्कर में उन्हें मृत घोषित कर दिया . लेकिन फरीदाबाद का हाई प्रोफाइल मामला होने के कारण ठग खुद ही इस जाल में फंस गए। दरअसल इन ठगों ने प्रशांत भल्ला का झूठा डेथ सर्टिफिकेट तैयार किया और स्वर्ग आश्रम की पर्ची बनवा कर इंसोरेंस की मोटी रकम हड़पने के लिया आवेदन भी कर दिया।

फरीदाबाद में दिखा हाईप्रोफ़ाइल ठगी का मामला, बाल-बाल बचे मानव रचना के संस्थापक डॉ. प्रशान्त भल्ला

क्लेंम आवेदन आने के बाद कंपनी के सर्वेयर जाँच के लिए प्रशांत भल्ला की पत्नी दीपिका भल्ला से मिलने के लिए उनके घर पहुँचे. जब दीपिका भल्ला को उनके पति के मृत होने की बात पता चली तो उनके पैरो के निचे से जमींन खिसक गई। जाँच के लिए सुरेश नामक व्यक्ति ने जब दीपिका भलला को उनके पति की मौत से जुड़े दस्तावेज दिखाए तो उनको समझने में देर नहीं लगी की यह कोई बहुत बड़ा फ्रॉड होने जा रहा था।

दीपिका भल्ला ने बताया की पुलिस मामले की जाँच कर रही है उन्होंने जानकारी दी कि डॉ .प्रशान्त भल्ला मैट लाइफ इंसोरेंस कम्पनी में इंसोरेंस है पुलिस को शक है कम्पनी द्वारा कोई जानकरी किसी से साझा तो नहीं की है इस बात की जांच की जा रही है।

फरीदाबाद में दिखा हाईप्रोफ़ाइल ठगी का मामला, बाल-बाल बचे मानव रचना के संस्थापक डॉ. प्रशान्त भल्ला

जालसाजो ने पूरी होशियारी के साथ इस प्लान को अंजाम दे रहे थे यह सब किसी फ़िल्मी सीन से कम नहीं लग रहा है क्लेम राशि उन तक किस प्रकार पहुंचगी इसका इंतज़ाम भी उन्होंने कर लिया था, इसके लिए जालसाजो ने पहले दीपिका भल्ला के नाम पर गुड़गांव के एचडीएफसी पालम बिहार शाखा में खाता खुलवा दिया ताकि आने वाली राशि को आसानी से निकला जा सके ।

फरीदाबाद में दिखा हाईप्रोफ़ाइल ठगी का मामला, बाल-बाल बचे मानव रचना के संस्थापक डॉ. प्रशान्त भल्ला

लेकिन अभी तक इस बात की पुस्टि नहीं हो पाई की दीपिका भल्ला के आधारकार्ड अन्य जानकारी इन लोगो तक कैसे पहुंच गई है इस बात की भी जाँच पुलिस द्वारा की जाएगी ।

फरीदाबाद में दिखा हाईप्रोफ़ाइल ठगी का मामला, बाल-बाल बचे मानव रचना के संस्थापक डॉ. प्रशान्त भल्ला

उस मृत्यु प्रमाण पत्र के अनुसार 11 अप्रैल को 2021 को उनको मृत दिखाया गया है इस घटना ने पुरे परिवार को असमंजस में डाल दिया है । प्रशांत भल्ला की पत्नी दीपिका ने अज्ञात लोगो के खिलाफ मामला दर्ज कराया है इस मामले में बिमा कंपनियों के अधिकारियो के अलावा बैंक कर्मी और मृत्यु प्रमाण पत्र जारी करने वाले कर्मियों की भी जाँच की जाएगी ।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...