HomeGovernmentअब बिना अनुमति सवारी बिठाना पड़ेगा भारी, विभाग ने काटा दो लाख...

अब बिना अनुमति सवारी बिठाना पड़ेगा भारी, विभाग ने काटा दो लाख रुपए का जुर्माना

Published on

संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच में जब लॉकडाउन लगाया गया तो ऐसे में आवागमन करने के लिए निजी परिवहन का इस्तेमाल करने वाले लोगों को सामने कई परेशानियां खड़ी हो गई थी इन्हीं परेशानियों का फायदा उठाते हुए निजी वाहन चालको ने आमजन की जेब पर धड़ल्ले से टाका मारा था मजबूरी में आमजन ने अपने गंतव्य तक पहुंचने के लिए निजी वाहनों का करना बड़ा महंगा पड़ा।

ऐसे में इस तरह के वाहन चालकों पर नकेल कसने के लिए और उनके खिलाफ कार्यवाही अमल में लाते हुए रोडवेज विभाग द्वारा करीबन 3 माह में 2 लाख से भी अधिक रुपए का जुर्माना वसूला जा चुका है।

अब बिना अनुमति सवारी बिठाना पड़ेगा भारी, विभाग ने काटा दो लाख रुपए का जुर्माना


दरअसल, दिन प्रतिदिन बढ़ते संक्रमण के मामलों को रोकने के लिए सरकार ने प्रदेश भर में लॉकडाउन लगाकर पाबंदियां लागू की थीं।

प्रदेश के कामगार प्रदेश से पलायन को मजबूर हो गए थे। ऐसे में निजी वाहन चालक फायदा उठाकर शहर के बस स्टैंड के बाहर से बिना परमिट ही सवारियां ढोने में जुटे हुए दिखाई दिए।। सवारियों से मनमानी किराया वसूलने की शिकायत भी अधिकारियों के पास पहुंची।

अब बिना अनुमति सवारी बिठाना पड़ेगा भारी, विभाग ने काटा दो लाख रुपए का जुर्माना

ऐसे में महाप्रबंधक की ओर से खुद चेकिंग अभियान चलाया गया। इस दौरान अप्रैल से 20 जून तक लगातार चालान काटे गए। कुछ वाहन चालकों को चेतावनी दी गई तो करीब 20 वाहनों के चालान काट कर विभाग ने दो लाख रुपये से अधिक जुर्माना भी किया

अब बिना अनुमति सवारी बिठाना पड़ेगा भारी, विभाग ने काटा दो लाख रुपए का जुर्माना

वही रोडवेज के जीएम राजीव नागपाल ने बताया कि
मुनाफे के एवज में निजी वाहन चालक स्टैंड से सवारियां को बैठाकर ले जाते हैं। उनके पास कमर्शियल वाहन परमिट नहीं होता है। ऐसे वाहनों चालकों के खिलाफ सख्त कार्रवाई आगे भी जारी रखी जाएगी।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...