Homeगरीबी में गुज़ारा बचपन अब बन गया ये युवक मेहनत से अफसर,...

गरीबी में गुज़ारा बचपन अब बन गया ये युवक मेहनत से अफसर, काफी प्रेरणा देती है इनकी कहानी

Published on

हर कोई जीवन में सफल होना चाहता है। सफलता के लिए आपको कड़ी मेहनत करनी पड़ती है। कुछ वर्षों पुरानी अमन की तस्वीर देखने लायक है। उनके बचपन की एक तस्वीर जो वायरल हो रही है, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार तक पहुंच गई। आखिरकार नीतीश कुमार ने भी इस तस्वीर के सामने आने के बाद अमन के पिता को फोन किया क्योंकि अमन के पिता उनके क्षेत्र के सबसे प्रभावशाली गांवों में एक मरांची के हैं।

फर्श से अर्श अगर आपको पहुंचना है तो बस सोचे – सोचे नहीं पहुंच सकते। आपको कड़ी मेहनत इसके लिए करनी पड़ती है। नीतीश कुमार ने अमन के पिता को बधाई भी और पुराने दिनों को याद कर ठहाके भी लगाये। दरअसल अमन अपनी इस तस्वीर में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सामने माइक पर खड़े होकर भाषण दे रहे हैं। उस समय नीतीश कुमार ने कहा था कि बच्चा बड़ा होकर अफसर बनेगा।

गरीबी में गुज़ारा बचपन अब बन गया ये युवक मेहनत से अफसर, काफी प्रेरणा देती है इनकी कहानी

जिस बच्चे के बारे में सीएम ने कहा था आज काफी सालों के बाद उस बच्चे ने सीएम की भविष्यवाणी भी सच कर दी है। इस बच्चे ने बीपीएससी की परीक्षा अच्छे रैंक के साथ क्वालिफाई करके सबको चकित कर दिया है और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की 25 साल पुरानी भविष्यवाणी को सच साबित कर दिया है। बिहार लोक सेवा आयोग की 64वीं संयुक्त परीक्षा इसमें पटना के बाढ़ के मरांची के रहने वाले अमन कुमार को 161वीं रैंक मिली है।

How Bihar PSC cleaned its act: Codes, late choices | Jobs News,The Indian  Express

बीपीएससी की परीक्षा काफी कठिन मानी जाती है। इसको पास करना बिहार के सभी युवाओं का सपना होता है। इस सपने को सच किया है अमन ने। जैसे उनके क्वालिफाई होने की खबर आई उनकी चर्चा शुरू हो गई। 25 पहले बचपन में एक सभा में उन्होंने मंच पर भाषण दिया था और उनके करीब बैठे थे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार। नीतीश कुमार सांसद थे और उन्होंने अमन को दुलारते हुये कहा था कि बड़ा होकर अफसर बनेगा।

BPSC APO Prelims Admit Card 2021 Released Download bpsc.bih.nic.in | BPSC  APO Admit Card 2021: बीपीएससी एपीओ प्रीलिम्स परीक्षा के एडमिट कार्ड हुए  जारी, ऐसे करें डाउनलोड | Hari Bhoomi

अमन ने दिन – रात कड़ी मेहनत से इस परीक्षा की तैयारी की। अमन काफी गरीब परिवार से आते हैं। ऐसे में उनका इस परीक्षा को पास करना कई युवाओं को प्रेरणा दे रहा है।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...