HomeEducationबुखार का बहाना करके यह अधिकारी अनुपस्थित रहती है हर मीटिंग से

बुखार का बहाना करके यह अधिकारी अनुपस्थित रहती है हर मीटिंग से

Published on

जब भी किसी उच्च अधिकारी की मीटिंग होती है, तो उस अधिकारी के अंडर काम करने वाले हर व्यक्ति को उस मीटिंग में उपस्थित होना अनिवार्य होता है। लेकिन कई बार कुछ अधिकारी किसी कारणवश उस मीटिंग में उपस्थित नहीं हो सकते हैं और उसका मुख्य कारण उच्च अधिकारी को बताया जाता है।

लेकिन अगर एक ही अधिकारी हर बार मीटिंग में बुखार का नाम लेकर मीटिंग में अनुपस्थित रहता है। तो उच्च अधिकारी भी समझ जाते हैं कि वह मीटिंग में नहीं आना चाहता है। इसको लेकर उच्च अधिकारियों के द्वारा उस अधिकारी से सवाल जवाब भी किया जाता है, लेकिन उसके बावजूद भी अधिकारी के द्वारा कोई जवाब नहीं दिया जाता है।

बुखार का बहाना करके यह अधिकारी अनुपस्थित रहती है हर मीटिंग से

ऐसा ही एक मामला फरीदाबाद में देखने को मिला है जहां पर सोमवार को निर्देशक मौलिक शिक्षा हरियाणा और निदेशक माध्यमिक हरियाणा के द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए प्रदेश के सभी जिलों के शिक्षा अधिकारी, डीपीसी और डिप्टी डीईओ के साथ मीटिंग हुई।

बुखार का बहाना करके यह अधिकारी अनुपस्थित रहती है हर मीटिंग से

लेकिन उस मीटिंग में डीपीसी अधिकारी मौजूद ही नहीं था और मीटिंग में यू डाइस का डाटा रखा नहीं गया। इस पर निदेशक नाराज़ हो गए। जब भी कोई उच्च अधिकारी मीटिंग लेता है, तो उसकी जानकारी पहले ही संबंधित अधिकारियों को दे दी जाती है।

निर्देशक के द्वारा भी जिले के सभी शिक्षा अधिकारी को इस मीटिंग के बारे में जानकारी दे दी गई थी और कहा गया था कि इस मीटिंग में शिक्षा अधिकारी के साथ-साथ डीपीसी और डिप्टी डीईओ भी शामिल होंगे। इसकी जानकारी शिक्षा अधिकारी के द्वारा व्हाट्सएप और मैसेज के जरिए दे दी गई थी।

बुखार का बहाना करके यह अधिकारी अनुपस्थित रहती है हर मीटिंग से

जैसे ही मीटिंग का मैसेज डीपीसी मुनेश चौधरी को दिया गया, तो उसने बुखार का हवाला देते हुए कहा कि वह मीटिंग को अटेंड नहीं कर पाएगी और उसने इस मीटिंग के लिए अपनी जगह किसी ओर रिप्रेजेंटेटिव को भी नहीं भेजा। सूत्रों के अनुसार डीपीसी मुनेश चौधरी ने पहले भी जब डीसी व एडीसी व शिक्षा अधिकारी के द्वारा किसी मीटिंग का आयोजन किया गया है।

बुखार का बहाना करके यह अधिकारी अनुपस्थित रहती है हर मीटिंग से

तो उसमें भी बुखार का बहाना बनाकर मीटिंग से अनुपस्थित रही। इसको लेकर कई बार उन को पत्र लिखकर उनसे जवाब मांगा गया। लेकिन उनके द्वारा किसी प्रकार का कोई भी जवाब नहीं दिया गया। सोमवार को हुई वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग मीटिंग में भी डीपीसी मुनेश चौधरी अनुपस्थित थी।

बुखार का बहाना करके यह अधिकारी अनुपस्थित रहती है हर मीटिंग से

जिसके वजह से यू डाइस का डाटा निर्देशक के सामने प्रस्तुत नहीं किया गया और उन्होंने असंतोष जताया। लेकिन वहीं दूसरी ओर उन्होंने शिक्षा अधिकारी रितु चौधरी उनकी टीम को एडमिशन में बढ़ोतरी के लिए संतोष जाहिर किया और उन्होंने यह भी कहा है कि आगे जब कभी भी मीटिंग का आयोजन किया जाएगा तब डीपीसी मुनेश चौधरी को उपस्थित रहने के लिए कहा जाए और साथ ही यू डाइस का डाटा जल्द से जल्द उनको दिया जाए।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...