HomeFaridabadरकतदान से बड़ा कोई पुण्य का काम नहीं : पंकज सिंगला

रकतदान से बड़ा कोई पुण्य का काम नहीं : पंकज सिंगला

Published on


फरीदाबाद : रकतदान से बड़ा कोई पुण्य का काम नहीं है, इसलिए रकतदान को सबसे बड़ा दान माना जाता है। कोरोना महामारी के दौरान थैलीसीमिया ग्रस्त बच्चों के लिए रक्त की पूर्ति करना अति आवश्यक है। इसलिए हम सभी को बढ़-चढक़र रकतदान करना चाहिए।

उक्त वक्तव्य भाजपा युवा मोर्चा के जिला अध्यक्ष पंकज सिंगला ने बिभय फाउंडेशन एवं वार्ड नंबर 24 पार्षद श्रीमती सोमलता भडाना व समाजसेवी रवि भड़ाना द्वारा वार्ड 24 के जगमाल इन्कलेव में आयोजित ब्लड डोनेशन कैंप में बतौर विशिष्ट अतिथि के रूप में शिरकत करते हुए कहे। पंकज सिंगला ने रकतदाओं का हौसला बढ़ाते हुए कहा कि रकतदान करने से शरीर में कोई कमजोरी नहीं आती, बल्कि हमार ब्लड प्यूरीफाई होता है।

रकतदान से बड़ा कोई पुण्य का काम नहीं : पंकज सिंगला

इसलिए हम सभी को जब भी जीवन में रकतदान करने का मौका मिले अवश्य रकतदान करना चाहिए। उन्होंने शिविर के आयोजक पार्षद सोमलता भडाना एवं बिभय फाउंडेशन की अध्यक्षा रूपा कुमारी के प्रयासों की भूरि-भूरि प्रशंसा की और कहा कि इस पुनीत कार्य से किसी की जान बचाने का कार्य किया है। हम आशा करते हैं भविष्य में इस तरह के आयोजन किए जाते रहेंगे।

रकतदान शिविर में 71 यूनिट ब्लड एकत्रित हुआ। कैंप में सहयोग करने वाले सभी साथियों एवं रक्तदाताओं का भी आभार प्रकट किया।

रकतदान से बड़ा कोई पुण्य का काम नहीं : पंकज सिंगला

इस अवसर पर भाजयुमो सेहतपुर मंडल अध्यक्ष अनुज शर्मा व सराय मंडल अध्यक्ष करण गोयल, उपाध्यक्ष एल के तिवारी, मंडल महामंत्री अरविंद चंदीला, चंदन सिंह, भाजपा महिला मोर्चा जिला उपाध्यक्ष श्रीमती मेघना श्रीवास्तव, वरिष्ठ भाजपा नेता श्यामचंद भड़ाना, युवा नेता रवि भड़ाना, भाला मिश्रा, रामलला, शीतला प्रसाद आदि उपस्थित रहे। 

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...