HomeFaridabadखोरी वासियों के समर्थन में आगे आ रहे हैं जेएनयू के स्टूडेंट,...

खोरी वासियों के समर्थन में आगे आ रहे हैं जेएनयू के स्टूडेंट, जानिए इसके पीछे की वजह

Published on

अरावली क्षेत्र की खोरी बस्ती में अवैध निर्माण के खिलाफ बुधवार होने वाली कार्रावाई को स्थगित कर दिया गया है वही आज यानी बुधवार को श्रमिक संगठनों ने दोपहर को पुरानी पूरी बस्ती के अंबेडकर पार्क के पास बाहर गली में प्रदर्शन किया और मांग की कि जो जहां बसा है उसे वहीं रहने दिया जाए। यह वही पार्क वाली गली है, जहां 30 जून को भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा था।


प्रदर्शन में वक्ता के रूप में बिगुल मजदूर दस्ता की शिवानी कौल तथा जेएनयू की छात्रा लता मौजूद रहे। जेएनयू की छात्रा लता ने लोगों को लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि जब तक सरकार यहां के लोगों को पुनर्वास नहीं देती तब तक हम खोरी वासियों के साथ हैं।

खोरी वासियों के समर्थन में आगे आ रहे हैं जेएनयू के स्टूडेंट, जानिए इसके पीछे की वजह

आपको बता दें कि बीते 30 जून को भी खोरी वासियों के हक की लड़ाई लड़ने के लिए जेएनयू के विद्यार्थी सामने आए थे तथा लोगों को संबोधित किया था। 30 जून को हुए पथराव में जेएनयू के कुछ विद्यार्थी जख्मी भी हुए वही आज भी जेएनयू के स्टूडेंट्स ने लोगों को संबोधित किया।


गौरतलब है कि नगर निगम ने कार्रवाई की तैयारी कर ली थी। निगम की टीमें, पुलिस अधिकारी और नौ अर्थमूवर मंगलवार शाम को कार्रवाई के लिए खोरी क्षेत्र पहुंच गई थी, मगर बुधवार सुबह कार्रवाई नहीं की गई। कार्रवाई की तैयारी के चलते लोग मंगलवार रात को नीदं भी नहीं ले पाए थे।

खोरी वासियों के समर्थन में आगे आ रहे हैं जेएनयू के स्टूडेंट, जानिए इसके पीछे की वजह

आज की स्थिति
आज महापंचायत में काफी गहमागहमी देखने को मिली। पार्क में प्रवेश करने को लेकर पुलिस और लोगों के बीच धक्का-मुक्की हो गई थी। बाद में किसी ने पत्थरबाजी कर दी थी।

बुधवार को स्थानीय निवासियों के साथ बिगुल मजदूर दस्ता के नेताओं ने अंबेडकर पार्क के बाहर नारेबाजी की। इस दस्ते से जुड़े सार्थक, राहुल और लता ने स्थानीय निवासियों ने प्रदर्शन किया। पुरानी बस्ती के बाहर पुलिस की निगरानी थी और पुलिस की ओर से पार्क पर ताला लगा हुआ था।


नई खोरी बस्ती से उठाएंगे सीएंडडी वेस्ट
नगर निगम ने नई खोरी बस्ती में पिछले वर्ष 14 सितंबर और इस वर्ष दो अप्रैल काे अवैध निर्माण के खिलाफ की कार्रवाई की थी। टूटे हुए मकानों का सीएंडडी वेस्ट (कंस्ट्रक्शन एंड डिमोलिशन)अभी तक वहीं फैला है।

खोरी वासियों के समर्थन में आगे आ रहे हैं जेएनयू के स्टूडेंट, जानिए इसके पीछे की वजह

नगर निगम की टीम ने मौके पर जाकर आसपास के क्षेत्र में मौजूद लोगों को समझाया है कि वे खुद सीएंडडी वेस्ट हटवा लें। निगमायुक्त डा. गरिमा मित्तल ने कहा कि सीएंडडी वेस्ट अगर किसी निवासी को जरूरत हो, तो वह वहां से ले जा सकता है।

Latest articles

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

More like this

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...