HomePoliticsपानी को लेकर फिर आमने सामने हुए दिल्ली- हरियाणा, राघव चड्डा ने...

पानी को लेकर फिर आमने सामने हुए दिल्ली- हरियाणा, राघव चड्डा ने लगाए गंभीर आरोप

Published on

हरियाणा और दिल्ली एक बार फिर से आमने सामने आ गई है वजह है वही पानी, दिल्ली जल बोर्ड के उपाध्यक्ष ना डालें हरियाणा सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि हरियाणा सरकार सुप्रीम कोर्ट द्वारा तय पानी दिल्ली को नहीं दे रहा है दिल्ली में इस समय पानी संकट जोरो जोरो पर है और इसके जिम्मेदार हरियाणा सरकार है

राघव चड्ढा ने कहा कि दिल्ली अपनी जलापूर्ति के लिए पड़ोसी राज्य पर निर्भर करता है लेकिन आज दिल्ली पर एक बहुत बड़ा जल संकट गहरा रहा है सुप्रीम कोर्ट ने आदेश के अनुसार एम ओ यू साइन करें हैं

पानी को लेकर फिर आमने सामने हुए दिल्ली- हरियाणा, राघव चड्डा ने लगाए गंभीर आरोप

उसके अनुसार राज्य दिल्ली को पानी देते हैं लेकिन हरियाणा सरकार सुप्रीम कोर्ट के द्वारा किए गए तय किए गए पानी नहीं दे पा रहा इसलिए सरकार पर दोष है कि दो संकट दिल्ली पर आया है उसके लिए हरियाणा सरकार जिम्मेदार है

आम आदमी पार्टी (AAP) विधायक ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि हरियाणा प्रतिदिन करीब 10 करोड़ गैलन पानी की कम आपूर्ति कर रहा है, जिसके चलते एनडीएमसी क्षेत्रों, मध्य, दक्षिण और पश्चिम दिल्ली में पानी का संकट पैदा हो गया है। चड्ढा ने कहा,

पानी को लेकर फिर आमने सामने हुए दिल्ली- हरियाणा, राघव चड्डा ने लगाए गंभीर आरोप

‘हरियाणा सरकार ने उच्चतम न्यायालय द्वारा निर्देशित दिल्ली के लोगों के कानूनी हक को रोका है, क्योंकि उन्होंने यमुना में पानी की आपूर्ति कम कर दी है। इसके कारण तीन प्रमुख जल शोधन संयंत्रों से प्रतिदिन कम जल तैयार हो रहा है।’

नही मिल रहा दिल्ली को अपना हक

चड्डा ने कहा कि हरियाणा ने दिल्लीवासियों को उनके हक से भी वंचित कर रखा है और दिल्ली में दैनिक जल उत्पादन 245 एमसीडी से घटकर 150 से 545 एमजीडी रह गया है हाई कोर्ट के अनुसार यमुना नदी हरियाणा को दिल्ली की पानी की आवश्यकता से अधिक की आपूर्ति करने का निर्देश दिया था

पानी को लेकर फिर आमने सामने हुए दिल्ली- हरियाणा, राघव चड्डा ने लगाए गंभीर आरोप

लेकिन हरियाणा सरकार जरूरत भर पानी की आपूर्ति भी नहीं कर पा रही है उन्होंने इस संबंध में हरियाणा सरकार को संबोधित करते हुए 12 पत्र भेजे जाने का दावा करते हुए कहा कि इन पत्रों का अभी तक कोई जवाब नहीं आया है

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...