Online se Dil tak

पराठों के लिए मशहूर मुरथल के ढाबे पर देह-व्यापार की इनसाइड स्टोरी, पढ़ें पूरी रिपोर्ट

अपने पराठों के स्वाद के लिए सोनिपत स्थित मुरथल के ढाबे देश ही नहीं बल्कि विदेश में मशहूर है। जानकारी के मुताबिक कई ढाबों पर देह-व्यापार और जुएं का गोरखधंधा पकड़े जाने के बाद मुरथल के ढाबों को अपनी इज्जत वापस पटरी पर लाने के लिए बहुत संघर्ष करना पड़ सकता है ।अवैध धंधे में पकड़े गए ढाबे लोकप्रियता के मामले में हालांकि इतने प्रचलित नहीं थें

लेकिन इनकी वजह से मुरथल के नामी-गिरामी ढाबों के संचालकों को बदनामी का डर सता रहा है।इस घटना के बाद अब ढाबा एसोसिएशन अब इस तरह की गैरकानूनी गतिविधियों को रोकने के लिए योजना बनाने पर रणनीति तैयार कर रहा है।

पराठों के लिए मशहूर मुरथल के ढाबे पर देह-व्यापार की इनसाइड स्टोरी, पढ़ें पूरी रिपोर्ट
सांकेतिक तस्वीर

जन्मदिन व पार्टी के विशेष मौकों पर लोग यहां केवल परांठे का स्वाद चखने आते हैं। यहां तक की दिल्ली आने जाने वाले विदेशी भी पराठों का स्वाद चखे बिना आगे नहीं बढ़ते ।

जीटी रोड़ से गुजरने वाले अफसर से लेकर आम आदमी तक हर कोई इन पराठों के स्वाद का मजा उठाना नहीं भूलता है। कुछ महीनों पहले पुलिस को ढाबों पर जुआं,देह व्यापार जैसी गैरकानूनी गतिविधियों की जानकारी मिलती है ।जिसके बाद जरूरी कदम उठाए जाते है ।

पराठों के लिए मशहूर मुरथल के ढाबे पर देह-व्यापार की इनसाइड स्टोरी, पढ़ें पूरी रिपोर्ट
पराठों के लिए मशहूर मुरथल के ढाबे पर देह-व्यापार की इनसाइड स्टोरी, पढ़ें पूरी रिपोर्ट

7 जुलाई को इन ढाबों में रेड की गई थी. यहां से 12 युवतियों और 3 युवकों को देह व्यापार और 9 युवकों को जुआ खेलते दबोचा गया. जुआ खेलते पकड़े गए युवकों से 1.63 लाख रुपये बरामद किए गए हैं. मुख्यमंत्री उड़नदस्ता की टीम ने स्थानीय पुलिस व एसडीएम के साथ छापा मारकर 12 युवतियों समेत 24 लोगों को गिरफ्तार किया है.

पराठों के लिए मशहूर मुरथल के ढाबे पर देह-व्यापार की इनसाइड स्टोरी, पढ़ें पूरी रिपोर्ट
पराठों के लिए मशहूर मुरथल के ढाबे पर देह-व्यापार की इनसाइड स्टोरी, पढ़ें पूरी रिपोर्ट

इनमें तीन विदेशी युवतियां भी शामिल हैं. नौ युवतियां दिल्ली, तीन युवतियां उजबेकिस्तान, तुर्की और रूस की रहने वाली हैं. एक टीम ने ब्राउन स्टोन ढाबे पर छापा मारा. वहां से नौ युवकों को जुआ खेलते पकड़ा गया.

मुरथल की पहचान यहां के ढाबों से ही है

अब सीएम फ्लाइंग की छापामारी के बाद ढाबा संचालकों के सामने परांठा नगरी की प्रतिष्ठा बचाने का सवाल खड़ा हो गया है। नामचीन ढाबा मालिकों को अब सबसे बड़ी चिंता यह सता रही है कि कही बदनामी के डर से कारोबार प्रभावित ना हों जाएं।कुछ ढाबा संचालकों की गैरकानूनी हरकतों का अंजाम पूरी ढाबा इंडस्ट्री को भी भुगतना पड़ सकता है।

पराठों के लिए मशहूर मुरथल के ढाबे पर देह-व्यापार की इनसाइड स्टोरी, पढ़ें पूरी रिपोर्ट
सांकेतिक तस्वीर

देवेन्द्र कादियान (एमडी मन्नत ग्रुप ऑफ ढाबा) ने एक रिपोर्ट में बताया कई बार पुलिस को शिकायत दी थी कि कुछ ढाबों पर देह-व्यापार और जुएं जैसे गैरकानूनी खेल हो रहें हैं लेकिन पुलिस अफसरों से शिकायत करने के बावजूद भी कोई कार्यवाही नहीं हुई।

पराठों के लिए मशहूर मुरथल के ढाबे पर देह-व्यापार की इनसाइड स्टोरी, पढ़ें पूरी रिपोर्ट
पराठों के लिए मशहूर मुरथल के ढाबे पर देह-व्यापार की इनसाइड स्टोरी, पढ़ें पूरी रिपोर्ट

इसके बाद हमने मुरथल ढाबों की प्रतिष्ठा बचाएं रखने के लिए मुख्यमंत्री मनोहर लाल से मुलाकात कर उन्हें पूरे मामले से अवगत कराया।

पराठों के लिए मशहूर मुरथल के ढाबे पर देह-व्यापार की इनसाइड स्टोरी, पढ़ें पूरी रिपोर्ट
पराठों के लिए मशहूर मुरथल के ढाबे पर देह-व्यापार की इनसाइड स्टोरी, पढ़ें पूरी रिपोर्ट

सीएम फ्लाइंग की इस कार्यवाही के बाद हमारी एसोसिएशन ने छवि बचाने की पहल शुरू की है।आगे से ढाबों पर गैरकानूनी गतिविधियों को नहीं होने दिया जाएगा और अवैध ढाबों को भी बंद करवाया जाएगा।

Read More

Recent