HomeOthersजेनरेटर के धुएं से उजड़ गया पूरा परिवार, हुई इतनी मौतें और...

जेनरेटर के धुएं से उजड़ गया पूरा परिवार, हुई इतनी मौतें और एक की हालत गंभीर

Published on

मंगलवार को महाराष्ट्र के चंद्रपुर जिले के एक ही परिवार के छः सदस्यों की जेनरेटर के धुएं से दम घुटने से मौत हो गई, जबकि एक की हालत गंभीर बताई जा रही है। मौत की वजह अभी साफ नहीं हो पाई है। पुलिस ने जानकारी दी कि शायद घर में रखे बिजली के एक जेनरेटर से निकली कार्बन मोनोऑक्साइड गैस की वजह से परिवार के सदस्यों की दम घुटने से मृत्यु हो गई।

पुलिस ने मामले की जांच कर बताया कि मृतक चंद्रपुर के दुर्गापुर इलाके के रहने वाले हैं। बारिश के कारण सोमवार रात से ही दुर्गापुर के कुछ इलाकों में बिजली की आपूर्ति नहीं हो रही थी।

जेनरेटर के धुएं से उजड़ गया पूरा परिवार, हुई इतनी मौतें और एक की हालत गंभीर

ऐसे में परिवार के एक वरिष्ठ सदस्य ने घर में रखे जेनरेटर को चालू किया। कुछ तकनीकी खराबी के कारण जेनरेटर का धुआं बाहर निकलने की बजाय पूरे घर में फैल गया।

सुबह घर से धुआं निकलता देख पड़ोसियों ने दरवाजा तोड़ा तो सब बेहोशी की हालत में थे। पड़ोसियों ने जल्दी ही पुलिस और एंबुलेंस को फोन किया। जल्दी ही सभी को अस्पताल में भर्ती करवाया जहां डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया और एक बच्ची का इलाज अब भी चल रहा है।

जेनरेटर के धुएं से उजड़ गया पूरा परिवार, हुई इतनी मौतें और एक की हालत गंभीर

नागपुर रेंज के पुलिस महानिरीक्षक चिरंजीवी प्रसाद ने बताया कि शुरुआती जानकारी से पता चला है कि जेनरेटर से निकले कार्बन मोनोऑक्साइड गैस की वजह से परिवार के छः सदस्यों की मौत हो गई।

मृतकों की पहचान रमेश लश्कर (25), अजय लश्कर (21), लखन लश्कर (10), कृष्ण लश्कर (08), पूजा लश्कर (14) और माधुरी लश्कर (20) के रूप में हुई है। बता दें कि रमेश लश्कर पेशे से एक ठेकेदार थे।

जेनरेटर के धुएं से उजड़ गया पूरा परिवार, हुई इतनी मौतें और एक की हालत गंभीर

जांच अधिकारी ने बताया कि एक नाबालिग लड़की की जान बच गई है और उसका अस्पताल में इलाज चल रहा है। मौत की वास्तविक वजह जानने के लिए पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...