HomePress Releaseखोरी में अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही हुई शुरू, तोड़फोड़ दस्ते की सुरक्षा...

खोरी में अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही हुई शुरू, तोड़फोड़ दस्ते की सुरक्षा के लिए 3000 पुलिसकर्मी किए गए तैनात

Published on

खोरी गावं में अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई शुरू की गई, एमसीएफ के तोड़फोड़ दस्ते की सुरक्षा के लिए करीब 3000 पुलिसकर्मी तैनात किए गए। पुलिस की नोडल ऑफिसर डॉ अंशु सिंगला डीसीपी एनआईटी के नेतृत्व में 3 डीसीपी, 12 एसीपी, ट्रैफिक पुलिस, क्राइम ब्रांच, रैपिड एक्शन फोर्स, स्वेट टीम सहित 3000 से अधिक पुलिसकर्मी सुरक्षा अरेंजमेंट में लगाए गए।

डॉ अंशु सिंगला डीसीपी एनआईटी ने जानकारी देते हुए बताया कि नगर निगम आयुक्त डा. गरिमा मित्तल सहित एमसीएफ का तोड़ फोड़ दस्ता 17 जेसीबी के साथ अतिक्रमण हटाने के लिए खोरी गांव में पहुंचा खोरी क्षेत्र में वन भूमि से अवैध अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई शुरू की गई।

खोरी में अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही हुई शुरू, तोड़फोड़ दस्ते की सुरक्षा के लिए 3000 पुलिसकर्मी किए गए तैनात

पहले दिन की कार्रवाई के लिए जितना लक्ष्य रखा गया था उसे पूरा कर लिया गया है सुप्रीम कोर्ट के आदेश की पालना मे यह कार्रवाई जारी रहेगी तब तक एमसीएफ दस्ते को आवश्यक सुरक्षा दी जाएगी और कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए असामाजिक तत्वों से सख्ती से निपटा जाएगा।

नगर निगम कमिश्नर डॉ गरिमा मित्तल ने जान की जानकारी देते हुए बताया कि माननीय उच्चतम न्यायालय के आदेशों का पालन करने के लिए 19 जुलाई तक का समय है और इस निर्धारित समय में अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई पूरी कर ली जाएगी।

खोरी में अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही हुई शुरू, तोड़फोड़ दस्ते की सुरक्षा के लिए 3000 पुलिसकर्मी किए गए तैनात

उन्होंने कहा कि बुधवार को जितने भी क्षेत्र में कार्रवाई के लिए लक्ष्य निर्धारित किया था उसे पूरा कर लिया गया है। बरसात की वजह से कार्रवाई को रोकना पड़ा है और यह कार्रवाई लगातार जारी रहेगी।

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि ‌खोरी क्षेत्र के लोगों के पुर्नवास के लिए नीति बनाई गई है और उन्हें ईडब्लूएस कोटे से डबुआ व बापू नगर क्षेत्र में फ्लैट उपलब्ध करवाए जाएंगे।

खोरी में अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही हुई शुरू, तोड़फोड़ दस्ते की सुरक्षा के लिए 3000 पुलिसकर्मी किए गए तैनात

उन्होंने कहा कि इसके लिए इस क्षेत्र में कैंप भी आयोजित किए जाएंगे। इस दौरान उन्होंने कहा कि लोगों को अस्थाई तौर पर रुकने के लिए शेल्टर होम भी बनाए गए हैं।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...