HomePublic Issueकटौती : इतनी सालाना आय वाले परिवार के युवाओं को सरकार ने...

कटौती : इतनी सालाना आय वाले परिवार के युवाओं को सरकार ने बेरोजगारी भत्ता योजना से किया बाहर

Published on

हरियाणा में युवाओं को अब बेरोजगारी भत्ता मिलने वाले रूल्स बदल गए हैं साल 2016 में हरियाणा सरकार ने बेरोजगार युवाओं को सक्षम बनाने के लिए सक्षम युवा योजना के तहत बेरोजगारी भत्ता दिए जाने की घोषणा की थी जिसके लिए रोजगार विभाग के प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि योजना के अनुसार पंजीकृत सक्षम युवाओं को अप्रैल 2020 महीने का बेरोजगारी भत्ता और मामले का शीघ्र भुगतान किया जाएगा और यह सिलसिला आगे भी जारी रहेगा

एक ओर जहां विपक्षी युवाओं को बेरोजगारी भत्ता ₹20000 देने की बात कर रही है वहीं मौजूदा सरकार ने बेरोजगारों के ₹3000 महीना भत्ते पर भी कटौती करना शुरू कर दिया है सरकार की सक्षम योजना के तहत उन युवाओं को बाहर किया गया है

कटौती : इतनी सालाना आय वाले परिवार के युवाओं को सरकार ने बेरोजगारी भत्ता योजना से किया बाहर

जिनके परिवार की सालाना इनकम ₹300000 से ज्यादा है इसके बारे में सभी रोजगार अधिकारियों डायरेक्टर की तरफ से आदेश जारी किए गए हैं इस आदेश के अनुसार युवाओं ने अपने पहचान परिवार पत्र में वार्षिक आय ₹300000 से ऊपर लिखाई है उनको इस योजना से अब बाहर कर दिया जाएगा

कटौती : इतनी सालाना आय वाले परिवार के युवाओं को सरकार ने बेरोजगारी भत्ता योजना से किया बाहर

सक्षम एवं स्कीम 2016 में शुरू की गई थी इस योजना के अंतर्गत 21 साल से 35 साल के युवाओं को बेरोजगारी भत्ता देने के लिए शामिल किया गया था इस योजना में शामिल होने के लिए सरकार द्वारा विभिन्न विभागों में एक सर्वे का काम करवाया जाता है 1 महीने में 100 घंटे काम के बदले ₹6000 का मेहनताना दिया जाता है साथ ही 12वीं पास युवाओं को ₹900 महीने ग्रेजुएशन को 1500 रुपए महीने वह पोस्ट ग्रेजुएशन को ₹3000 महीने की दर से बेरोजगारी भत्ता मिलता है

कटौती : इतनी सालाना आय वाले परिवार के युवाओं को सरकार ने बेरोजगारी भत्ता योजना से किया बाहर

प्रदेश में फिलहाल 260802 युवाओं ने रजिस्टर करवाया था आंकड़ों की बात करें तो 12वीं पास में 15 4194 ग्रैजुएशन पास में 73348 वह प्रश्नोत्तर में 33 260 युवा शामिल है फरीदाबाद की यदि बात की जाए तो इसलिए बड़ी आबादी में से केवल 16 ही युवक युवाओं को बेरोजगार भत्ता मिलता है

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...