HomeUncategorizedदूध दही से ज्यादा हरियाणा हुआ नशे का आदी, नशे के गढ़...

दूध दही से ज्यादा हरियाणा हुआ नशे का आदी, नशे के गढ़ बनते हरियाणा में खाकी वर्दी पर उठने लगी उंगलियां

Published on

जहां एक तरफ हरियाणा यहां के प्रसिद्ध खिलाड़ियों और आए दिन यहां से निकलने वाले प्रतिभागी और प्रतिभाशाली खिलाड़ियों के दमखम के लिए जाना जाता है वहीं दूसरी तरफ अब दूध दही को छोड़ नशे के गढ़ के चलते प्रसिद्धियां हासिल करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रहा हैं। दरअसल, पंजाब, राजस्थान और यूपी के साथ लगते जिलों में तेजी से नशा का कारोबार पांव पसार रहा है।

वहीं पिछले सप्ताह फरीदाबाद में एक ही स्थान से दिल्ली पुलिस द्वारा 354 किलोग्राम हेरोइन पकड़े जाना इस बात की तस्दीक करता है। नशा रोकने वाली विंगों की कार्यप्रणाली कमजोर हो रही है। पानीपत, करनाल समेत जींद, रोहतक जिलों में भी कई मामले सामने आए हैं। बढ़ते नशे को लेकर कांग्रेसी विधायकों ने भी पुलिस और सरकार की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाए हैं।

दूध दही से ज्यादा हरियाणा हुआ नशे का आदी, नशे के गढ़ बनते हरियाणा में खाकी वर्दी पर उठने लगी उंगलियां

दो साल पहले पंचकूला पुलिस लाइन में अंतरराज्यीय ड्रग सचिवालय स्थापित किया गया। यह हरियाणा, पंजाब, हिमाचल, उत्तराखंड, यूपी और दिल्ली राज्यों की पुलिस को आपस में जोड़ने और नशा कारोबार की कमर तोड़ने के लिए बनाया गया था। अब आलम ये है कि सूचना के लिए दिए नंबरों पर दिनभर में मुश्किल से एक से दो काल आती हैं। जब पुलिस के पास सूचनाएं ही नहीं होंगी तो वे तस्करों को पकड़ेंगे कैसे? दूसरा राज्य नारकोटिक्स ब्यूरो के पास न तो पर्याप्त स्टाफ है और न ही संशाधन। ऐसे में नशा तस्कर कैसे पकड़े जाएंगे? मुखबिरी के लिए बजट कम होना भी बढ़ती तस्करी का कारण बताया जा रहा है।

दूध दही से ज्यादा हरियाणा हुआ नशे का आदी, नशे के गढ़ बनते हरियाणा में खाकी वर्दी पर उठने लगी उंगलियां

साल 2020 में पुलिस ने 22.5 टन ड्रग्स को जब्त किया। इसमें 225 किलोग्राम अफीम, 250 किलोग्राम चरस/सुल्फा, 12828 किलोग्राम चूरापोस्त, 8 किलो से स्मैक, 9223 किलो गांजा व 33 किलो 198 ग्राम हेरोइन शामिल हैं। इस वर्ष पुलिस ने गुरुग्राम से 22.33 क्विंटल गांजा, हिसार से 527 किलो 800 ग्राम डोडा पोस्त, पानीपत से 325 से अधिक गांजा पत्ती, महेंद्रगढ़ से 17.12 क्विंटल गांजा पत्ती, कैथल से 21 किलो अफीम और करनाल से 1.28 क्विंटल डोडा पोस्त व 7.5 किलो अफीम बरामद की है।

दूध दही से ज्यादा हरियाणा हुआ नशे का आदी, नशे के गढ़ बनते हरियाणा में खाकी वर्दी पर उठने लगी उंगलियां

डबवाली से विधायक अमित सिहाग ने कहा कि पंजाब में नशे के खिलाफ एक्शन के बाद से तस्कर हरियाणा के इलाकों में सक्रिय हो गए हैं। पुलिस और सरकार के ढुलमुल रवैये के चलते हरियाणा में पिछले 6 से 7 साल में केवल नशे का कारोबार बढ़ा है। इसी प्रकार, कांग्रेस के बादली से विधायक कुलदीप वत्स ने भी नशे को लेकर सरकार पर हमला बोला है और कहा कि क्षेत्र में लगातार नशा बढ़ रहा है। दोनों विधायकों ने सरकार से मांग की कि तस्करों पर लगाम लगाई जाए।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...