HomePublic Issueफरीदाबाद में पहली बार सड़कों पर उतरे उद्योगपति, कहा जिस भाषा में...

फरीदाबाद में पहली बार सड़कों पर उतरे उद्योगपति, कहा जिस भाषा में सरकार समझे हम उसके लिए पूरी तरह से तैयार

Published on

एक तरफ जहां बिजली मंत्री सरप्लस बिजली होने तथा 24 घंटे बिजली का दावा कर रहे हैं वहीं फरीदाबाद के आईएमटी के उद्योगपति पिछले 36 घंटे से बिजली कटौती से जूझ रहे हैं।

ऐसे में अधिकारियों से बार-बार संपर्क करने के बावजूद अधिकारियों द्वारा कोई सकारात्मक रुख अपनाने से आक्रोशित आईएमटी के उद्योगपति आज सड़कों पर उतरने पर विवश हो गए।

फरीदाबाद में पहली बार सड़कों पर उतरे उद्योगपति, कहा जिस भाषा में सरकार समझे हम उसके लिए पूरी तरह से तैयार

बिजली विभाग मुर्दाबाद के नारे लगाते हुए आईएमटी स्थित बिजली कार्यालय पहुंचे उद्योगपति इतने अधिक आक्रोशित थे। उन्होंने अधिकारियों को जमकर खरी-खोटी सुनाई और सीधे तौर पर कहा कि उद्योगपति अब केवल गुलदस्ता देने वाले उद्योगपति नहीं है।

बल्कि अपनी समस्याओं को लेकर यदि अधिकारी उनकी बात नहीं सुनते हैं तो वे सड़कों पर उतर कर सरकार के खिलाफ हल्ला बोलने से भी गुरेज नहीं करेंगे। सरकार की नियत ठीक है लेकिन अधिकारियों की नकारात्मक कार्यशैली सरकार की छवि को पलीता लगा रही है।

फरीदाबाद में पहली बार सड़कों पर उतरे उद्योगपति, कहा जिस भाषा में सरकार समझे हम उसके लिए पूरी तरह से तैयार

इस मौके पर उद्योगपतियों ने कहा कि वे इस मामले में उद्योग मंत्री कृष्णपाल गुर्जर से भी मुलाकात करेंगे। साथ ही उन्होंने चेतावनी दी कि अब उद्योगपति शांत रहकर अधिकारियों की मनमानी नहीं सहेगा क्योंकि उद्योगों के अस्तित्व पर संकट मंडरा रहा है।

प्रमोद राणा प्रधान आईएमटी एसोसिएशन फरीदाबाद उद्योगपती ने कहा कि फरीदाबाद के अधिकारियों के नकारात्मक रवैया के कारण ही बड़े बड़े उद्योग यहां से पलायन कर गए।

फरीदाबाद में पहली बार सड़कों पर उतरे उद्योगपति, कहा जिस भाषा में सरकार समझे हम उसके लिए पूरी तरह से तैयार

महावीर गोयल महासचिव आईएमटी इंडस्ट्रीज एसोसिएशन फरीदाबाद उन्होंने कहा कि एक तरफ हम अदर यूनिट लाने की बात करते हैं तो दूसरी तरफ जो पहले से ही उद्योग चल रहे हैं उन्हें बिजली पानी जैसी मूलभूत सुविधाएं भी नहीं मिल पा रही हैं।

उद्योगपतियों ने स्पष्ट रूप से कहा कि अब उद्योगपति गुलदस्ते देने वाले उद्योगपति नहीं है बल्कि यदि अधिकारियों का ऐसा रवैया रहा तो चक्का जाम कर देंगे और अपनी आवाज मुखर करेंग उन्होंने साथ ही साथ यह भी कहा कि सरकार जैसी जुबान समझेगी हम वैसे ही जुबान में सरकार को समझाएंगे।

फरीदाबाद में पहली बार सड़कों पर उतरे उद्योगपति, कहा जिस भाषा में सरकार समझे हम उसके लिए पूरी तरह से तैयार

वही इस मौके पर बिजली विभाग की एक्स ई एन उर्मिला ने कहा की उद्योगपतियों ने अपनी समस्या उनके समक्ष रखी है और वह यह सुनिश्चित करने का पूरा प्रयास करेंगी कि आने वाले समय में इस तरह की समस्या से उद्योगपतियों को ना जूझना पड़े।

साथ ही बिजली अधिकारियों की नकारात्मक कार्यशैली को लेकर भी उन्होंने उद्योगपतियों को आश्वस्त किया है उन्होंने बताया कि बरसात के चलते बिजली कटौती की समस्या उत्पन्न हो रही है लेकिन वह इसका समाधान करने की पूरी कोशिश में जुटी हुई है।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...