Homeमायके से वापस नहीं आ रही थी पत्नी, पति बंदूक तान बोला-साथ...

मायके से वापस नहीं आ रही थी पत्नी, पति बंदूक तान बोला-साथ चलेगी या गोली खाएगी, जानिये फिर क्या हुआ

Array

Published on

पति पत्नी के रिश्ते में कई बार बिना वजहों के खटास आ जाती है। यह खटास बातों से हल होती है लेकिन फिर भी कई लोग इसे दूर नहीं करते हैं। ससुराल से नाराज होकर एक महिला अपने मायके चली गई। काफी दिनों तक जब महिला जब घर नहीं लौटी तो उसे लेने के लिए कन्नौज निवासी उसका पति तमंचा लेकर अपनी ससुराल अजीतगंज पहुंच गया। गांव स्थित ससुराल में पहले उसने तमंचा लहराया।

पत्नी पर जोर ज़बरदस्ती करके कभी कोई रिश्ता सफल नहीं होता है। इस पति ने पत्नी को तमंचा दिखाया और बोला साथ चलना है या गोली खाओगी। इसके बाद वह तमंचा लेकर गली में घूमने लगा। मोहल्ले के लोगों ने उसे देखा तो पुलिस को बता दिया। खबर पाकर पहुंची पुलिस ने आरोपी को तमंचा सहित गिरफ्तार कर लिया। मुकदमा दर्ज कर उसे जेल भेजा गया है।

मायके से वापस नहीं आ रही थी पत्नी, पति बंदूक तान बोला-साथ चलेगी या गोली खाएगी, जानिये फिर क्या हुआ

शादी के बाद नई ज़िंदगी शुरू होती है। पति और पत्नी का रिश्ता प्यार और सम्मान की दीवार पर टिकता है। इस मामले में एलाऊ थाना प्रभारी के मुताबिक पुलिस को सूचना मिली कि एक सिरफिरा पति अपनी पत्नी को जबरन साथ ले जाना चाहता है। पत्नी साथ नहीं जा रही है तो पति तमंचा लेकर धमकी दे रहा है। आरोपी पति का शादी के बाद से ही अपनी पत्नी से विवाद हो गया था जिसके चलते उसकी पत्नी अपने मायके अजीतगंज, आकर रहने लगी थी।

मायके से वापस नहीं आ रही थी पत्नी, पति बंदूक तान बोला-साथ चलेगी या गोली खाएगी, जानिये फिर क्या हुआ

यह एक ऐसा रिश्ता है जहां दोनों को एक दूसरे की इज़्ज़त करनी चाहिए। एक दूसरे को समझना चाहिए। मामले की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और तमंचा लेकर गली में घूम रहे आरोपी पति सुशील पुत्र छोटेलाल निवासी उद्दैतापुर कोतवाली कन्नौज को गिरफ्तार कर लिया। उसके पास से तमंचा और कारतूस बरामद किए गए।

मायके से वापस नहीं आ रही थी पत्नी, पति बंदूक तान बोला-साथ चलेगी या गोली खाएगी, जानिये फिर क्या हुआ

अक्सर ऐसी ख़बरें सुनने को मिलती रहती हैं जहां महिलाओं के साथ अत्याचार किया जाता है। जब पति के अत्याचार का घड़ा भर जाता है तो पत्नी के पास अपना ससुराल छोड़ मायके जाने के सिवाय कोई रास्ता नहीं बचता है।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...