HomeFaridabadशहर को स्वच्छ बनाने के लिए निगम ने बनाई यह योजना, लोगों...

शहर को स्वच्छ बनाने के लिए निगम ने बनाई यह योजना, लोगों से की सहयोग की अपील

Published on

स्मार्ट सिटी फरीदाबाद को स्वच्छ बनाने के लिए अब उद्यमियों तथा समाजसेवियों का सहयोग लिया जाएगा। उद्यमी सीएसआर योजना के तहत वार्डों को गोद ले सकते हैं जिसे अडॉप्ट योर वार्ड का नाम दिया जाएगा। इसके लिए व्हाट्सएप ग्रुप भी बनाया जाएगा।

दरअसल, शहर में कचरा उठान की व्यवस्था चरमराई हुई है। शहर के अलग-अलग हिस्सों में कूड़े के ढेर लगे हुए हैं। इस समय शहर में घर-घर से कूड़ा उठाने का काम इको ग्रीन कंपनी के पास है परंतु इको ग्रीन कंपनी की कार्यशैली संतोषजनक नहीं है। गलियों में सफाई के लिए नगर निगम कर्मचारी नियुक्त है।

शहर को स्वच्छ बनाने के लिए निगम ने बनाई यह योजना, लोगों से की सहयोग की अपील

इसके बावजूद भी लोगों की शिकायत रहती है कि उनके यहां सफाई कर्मी नहीं आते हैं। क्यों में जगह-जगह गंदगी के ढेर लगे रहते हैं। इसे देखते हुए नगर निगम ने उद्यमियों और समाजसेवियों को आगे करके सहयोग करने की अपील की है। यह कार्य सीएसआर स्कीम के तहत किया जाएगा।


सीएसआर स्कीम के तहत उद्योगों को हर महीने सामाजिक कार्यों के लिए एक फंड खर्च करना पड़ता है। इस फंड को अब शहर को स्वच्छ बनाने की दिशा में खर्च किया जाएगा। शहर को स्वच्छ फरीदाबाद बनाने में सहायता मिलेगी। गम का कहना है कि इस में वार्ड के कई लोगों को जोड़ा जाएगा जिससे सफाई पर नजर रखी जा सकेगी।

शहर को स्वच्छ बनाने के लिए निगम ने बनाई यह योजना, लोगों से की सहयोग की अपील

यही सफाई सही तरीके से नहीं होगी तो वह निगम के व्हाट्सएप ग्रुप में डाल देंगे। निगम को सफाई कर्मचारियों व सफाई व्यवस्था पर नजर रखने में मदद मिलेगी। निगम का मानना है कि बिना लोगों के जोड़ आपसे सफाई व्यवस्था को बेहतर नहीं किया जा सकता।


नगर निगम की अतिरिक्त आयुक्त वैशाली शर्मा ने बताया कि नगर निगम ने वार्डों को उद्यमियों और समाजसेवी द्वारा गोद लेने की योजना बनाई है। इसके तहत जो भी उद्यमी व समाजसेवी वार्ड को गोद लेगा उसे वह वार्ड की सफाई समेत अन्य समस्याओं को दूर करवाने की जिम्मेदारी सौंपी जाएगी।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...