HomeFaridabadघर के बाहर खेलते- खेलते बच्ची हुई गायब, 11 दिन बाद भी...

घर के बाहर खेलते- खेलते बच्ची हुई गायब, 11 दिन बाद भी नहीं मिला कोई सुराग,

Published on

सेक्टर 30 स्थित श्रमिक विहार इलाके से एक अलग ही मामला सामने आया है जहां दो साल की बच्ची को मायके लेकर आई हुई मां के सामने से खेलते- खेलते बच्ची अचानक से गायब हो गई। 11 दिन बीत जाने के बाद भी मासूम बच्ची का अभी तक कोई सुराग नहीं लगा है।

शक के तौर पर पास से गुजरने वाली नहर में भी एनडीआरएफ और परिजन तलाश कर चुके है परन्तु फिर भी बच्ची का कुछ पता नहीं चल पाया है। बेटी के अचानक गुम हो जाने की शिकायत पीड़ित परिवार ने पुलिस (Police) में भी दी है, मगर पुलिस भी कोई सुराग नहीं लगा पाई है।

घर के बाहर खेलते- खेलते बच्ची हुई गायब, 11 दिन बाद भी नहीं मिला कोई सुराग,

बल्लभगढ़ ऊंचा गांव में रहने वाली एक मां अपनी 2 साल की बेटी को लेकर सेक्टर 30 श्रमिक विहार अपने मायके आई थी. जहां वह शाम के करीब 5:30 बजे दूध गर्म कर रही थी और बेटी उसी की आंखों के सामने दरवाजे के बाहर गली में खेल रही थी.

खेलते खेलते बच्ची अचानक से गायब हो गई और जिस खिलौने से बच्ची खेल रही थी वह खिलौना पास ही गुजरने वाली नहर में मिला. जिससे परिजनों को शक हुआ कि कहीं बेटी खेलते खेलते नहर में तो नहीं गिर गई.

एनडीआरएफ की सहायता से नहर में बच्ची को खूब खोजा, लेकिन बेटी नहर में नहीं मिली. जिसके बाद परिजनों ने पुलिस में बेटी के गायब होने की एफआईआर दर्ज कराई. 11 दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस अभी तक एक मां की नन्ही सी बेटी को खोजने में नाकाम रही हैं.

घर के बाहर खेलते- खेलते बच्ची हुई गायब, 11 दिन बाद भी नहीं मिला कोई सुराग,

बेटी का अभी तक कोई सुराग नहीं लगा है, जिसके चलते परिजनों ने बच्ची का पता बताने वाले हैं व्यक्ति को ₹50000 नगद इनाम देने की घोषणा भी कर डाली है.

वहीं बेटी के ताऊ ने बताया कि वह लगातार पुलिस थाने के चक्कर लगा रहे हैं. वहां से सिर्फ एक ही जवाब मिलता है कि वह बच्ची को खोज रहे हैं. उन्हें अभी तक किसी पर कोई शक भी नहीं है.

वहीं इस घटना से जुड़ी हुई जानकारी देते हुए बच्ची के ताऊ ने बताया कि उन्हें पता चला है कि फरीदाबाद के अलग-अलग इलाकों से करीब आधा दर्जन बच्चे गायब हुए हैं जिसमें अधिकतर बेटियां हैं.

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...