HomeOMG : ये शख्स 900 किलो चिल्लर लेकर पहुंचा BMW खरीदने, शोरूम...

OMG : ये शख्स 900 किलो चिल्लर लेकर पहुंचा BMW खरीदने, शोरूम में जो हुआ उसे देख सभी रह गए सन्न

Published on

बीएमडब्ल्यू एक ऐसी कार है जिसे हर कोई खरीदना चाहता है। इसे खरीदने का हर कोई सपना देखता है। कई सालों की बचत के बाद इसे खरीदने लायक पैसे बनते हैं। ऐसे ही एक शख्स चिल्लर लेकर इसके शोरूम पहुंच गया। चिल्लर कहे खुल्ले पैसे कहे या फिर चेंज पैसे बात तो एक ही है। चिल्लर से तो सभी परेशान है। वहीं चिल्लर ज्यादातर बच्चों के हाथ में ज्यादा नजर आते है।

चिल्लर लेना कोई पसंद नहीं करता है। सभी को नोट अच्छे लगते हैं। चिल्लर से सभी दूरियां बना रहे हैं। अब इससे तो भगवान भी परेशान हो गए हैं। आजकल तो हाल ये है कि, मंदिरों के मुख्य द्वार के पास के दान पेटी में एक नोटिस लगा होता है जिसमे लिखा होता है की ‘कृपया सिक्‍के न डालें। लेकिन चीन के टोंगरेन नाम के शहर में रहने वाला यह शख्स जब एक ट्रक में सिक्के भरकर बीएमडब्लू कार के शोरूम पहुंचा तो हाल ही अलग थे।

OMG : ये शख्स 900 किलो चिल्लर लेकर पहुंचा BMW खरीदने, शोरूम में जो हुआ उसे देख सभी रह गए सन्न

इतने सिक्के शायद ही वहां पर मौजूद लोगों ने देखे होंगे। हर कोई पहले तो वहां परेशान हो गया। चीन के टोंगरेन नाम के शहर में रहने वाला यह शख्स जब एक ट्रक लेकर बीएमडब्लू कार के शोरूम पहुंचा। तब वहां के कर्मचारी ट्रक में भरे हुए सिक्के देखकर हैरान रह गए। शोरूम के मैनेजर को उसने बताया कि वह कार खरीदना चाहता है।

OMG : ये शख्स 900 किलो चिल्लर लेकर पहुंचा BMW खरीदने, शोरूम में जो हुआ उसे देख सभी रह गए सन्न

भारत ही नहीं बल्कि दुनिया के हर देश में शायद खुले पैसों को लेकर समस्या होती है। लेकिन यहां तो चीनी ग्राहक के साथ ऐसा हुआ जब ये इतने सरे सिक्के शोरूम पर पहुंचा और कहा मुझे कार खरीदनी है तब दूकानदार पूरी तरह से टेंशन में आ गया और बोला की इतने सारे चिल्लर सिक्के मैं कैसे गिनूंगा और इसे कहा जमा करूंगा कौन सा बैंक इन सिक्कों को लेगा।

OMG : ये शख्स 900 किलो चिल्लर लेकर पहुंचा BMW खरीदने, शोरूम में जो हुआ उसे देख सभी रह गए सन्न

उन सभी को गिनने में कितने दिन लगते कहा नहीं जा सकता। यह मामला वहां चर्चा का विषय बना हुआ है। उस दूकानदार की बात सुनने के बाद जो ग्राहक इतने सारे सिक्के लेकर पहुंचा था, वो काफी निराश हो गया और उसके बाद उसने अपने मन की बात दूकानदार से बताई उसने दुकानदार को बताया कि यह कार खरीदने का सपना मैं कई वर्षों से देख रहा हूं। इसके लिए दिन रात मेहनत की, पाई-पाई जोड़ी और तब जाकर मै इतनी बड़ी रकम इकठ्ठा कर सका हूँ। जब ग्राहक ने ये बात दूकानदार से बताई तब दूकानदार का दिल पिघल गया और वो उस चीनी ग्राहक को कार देने के लिए तैयार हो गया और तब जाकर उस ग्राहक का वर्षों से देखा गया सपना पूरा हो सका।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...