HomeUncategorizedसुतीर्था के आउट होने से टूटी फरीदाबाद की आस, इस राउंड में...

सुतीर्था के आउट होने से टूटी फरीदाबाद की आस, इस राउंड में हो गई बाहर

Published on

टोक्यो ओलंपिक में फरीदाबाद की मुखर्जी सोमवार को अपने दूसरे राउंड के मुकाबले के लिए टोक्यो ओलंपिक में निराश हुई । इससे परिजन व फरीदाबाद वासियों की उम्मीदें भी आप टूट चुकी आपको बता दें कि फरीदाबाद वासियों ने ही नहीं बल्कि पूरे देश में सुतीर्था से काफी आस लगाई थी लेकिन इस बार किस्मत ने सुतीर्था का साथ नहीं दिया पिछले 4 महीने से सुतीर्था जिला फरीदाबाद में ही रह रही थी ।

आपको बता दें सुतीर्था टेबल टेनिस में पुर्तगाल की फू यू के साथ रावण मुकाबला खेलने के लिए मैदान में उतरी थी इसमें सुतीर्था 4-0 से मैच हार गई। उन्होंने बेहद शानदार परफॉर्मेंस के साथ अपने प्रतिद्वंदी फू यू का मुकाबला किया लेकिन उसे हरा नहीं पाए।

सुतीर्था के आउट होने से टूटी फरीदाबाद की आस, इस राउंड में हो गई बाहर

क्यों हारी सुतीर्थ ?

आपको बता दें कि सुतीर्था बैक हैंड साइड से खेलती है यह रणनीति प्रतिद्वंदी पर काफी भारी पड़ती है लेकिन सोमवार सुबह खेले गए मुकाबले में सुतीर्था 4 हैंड साइड से ब्लॉक बनाकर खेलने में बिछड़ गए इसी कारण पुर्तगाली प्रतिद्वंदी उन पर हावी रहे फिर भी सुतीर्था रियो ओलंपिक में काफी शानदार प्रदर्शन करके लौटेंगे।

अकादमी के सभी खिलाड़ियों की प्रेरणा रही है सुतीर्था और वह बीते 10 साल से चैंपियनशिप जी टी आई है उनके अनुभवों से नई खिलाड़ी काफी कुछ सीखेंगे अकादमी के कई खिलाड़ी इंडियन सर्कल में सुतीर्था के अनुभव से काफी कुछ सीख सकते हैं और अंडर 12 अंडर 15 प्लेयर 2024 के ओलंपिक के लिए तैयारी नहीं कर सकते हैं।

सुतीर्था के आउट होने से टूटी फरीदाबाद की आस, इस राउंड में हो गई बाहर

इस बार 23 जुलाई से जापान के टोक्यो में ओलंपिक खेल शुरू हो चुके हैं इसमें मीराबाई चानू ने देश के लिए रजत पदक जीतकर सबसे पहला मेडल हासिल किया ऐसा पहली बार हुआ है जब पहले दिन ही देश के किसी खिलाड़ी ने पदक तालिका सूची में अपना नाम दर्ज कराया हो ऐसे में 26 वर्ष किसानों के प्रदर्शन से ना सिर्फ अन्य खिलाड़ियों का मनोबल बढ़ा बल्कि देश की उम्मीद है कई गुना बढ़ गई।

अब देखना यह रहेगा कि आ गए इस मुकाबले में खिलाड़ी भारत देश के लिए कितने पदक जीतकर लाते हैं

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...