HomeGovernmentगृह मंत्री अनिल विज ने किसानों से किया यह आवाह्न, ऑक्सीजन के...

गृह मंत्री अनिल विज ने किसानों से किया यह आवाह्न, ऑक्सीजन के मामले में कहीं यह बात

Published on

अपनी मांगों को लेकर लंबे समय से धरने पर बैठे किसानों से प्रदेश के गृह मंत्री अनिल विज ने जगह खाली करने का आवाहन किया है। प्रदेश के गृह मंत्री अनिल विज ने कहा कि किसान आंदोलन के चलते राष्ट्रीय राजमार्ग बाधित है और व्यापारियों को काफी नुक्सान उठाना पड़ रहा है। ऐसे में व्यापारी अब हाईवे खुलवाने की मांग कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि किसानों को समझना चाहिए कि आंदोलन अपनी जगह है, उनके आंदोलन की वजह से दूसरे लोगों की आजादी बाधित न हो यह भी प्रजातांत्रिक आंदोलन का मुख्य आधार होता है। विज ने कहा कि भाजपा-जजपा नेताओं की रोक को लेकर जींद में सर्वखाप ने जो फैसला लिया है वह गलत है। सविंधान ने सभी को कहीं भी आने-जाने का अधिकार दिया हुआ है, ऐसे किसी पर रोक लगाने का फैसला सही नहीं है।

गृह मंत्री अनिल विज ने किसानों से किया यह आवाह्न, ऑक्सीजन के मामले में कहीं यह बात

वही ऑक्सीजन के मामले में हरियाणा बनेगा आत्मनिर्भर
विज ने कोरोना की संभावित तीसरी लहर संबंधी दावा किया कि हमारी तैयारी पूरी है। हमने पहली व दूसरी लहर से काफी कुछ सीखा है। दूसरी लहर में ऑक्सीजन की कमी रही इसे देखते हुए 40 प्लांट प्रधानमंत्री ने दिए हैं और 139 हम खरीदने जा रहे हैं जिसके लिए टैंडर लगा दिया गया है।

हमारे सभी सरकारी अस्पतालों में पी.एस.ए. प्लांट लग जाएंगे और प्राइवेट अस्पतालों को भी यही आदेश दिए गए हैं। विज ने कहा कि मुझे पूरी उम्मीद है कि ऑक्सीजन के मामले में हरियाणा आत्मनिर्भर प्रदेश बनेगा। प्रदेश में निजी अस्पतालों में ऑक्सीजन प्लांट लगाने के लिए नोटीफिकेशन भी जारी कर दी गई है।

गृह मंत्री अनिल विज ने किसानों से किया यह आवाह्न, ऑक्सीजन के मामले में कहीं यह बात

अलोकतांत्रिक विपक्ष सदन में धक्का-मुक्की और हल्ला मचाना ही जानता है। लोकसभा में विपक्षी सांसदों द्वारा स्पीकर पर कागज फैंके जाने की घटना पर विज में कहा कि सदन लोकतांत्रिक व अलोकतांत्रिक सदस्यों के 2 हिस्सों में विभाजित हो गया है।

लोकतांत्रिक सदस्य प्रजातंत्र की मूल भावनाओं के अनुसार देश के मुद्दों पर चर्चा कर उन्हें हल करना चाहते हैं, वहीं अलोकतांत्रिक सदस्य संसद में धक्का-मुक्की हल्ला कर शोर मचाना चाहते हैं, अब यह देशवासियों को तय करना है कि वे लोकतांत्रिक लोगों के साथ हैं या अलोकतांत्रिक।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...