Homeसरकार ने लॉन्च किया ‘नीला आधार कार्ड’, जानिए किसको बनाना है ज़रूरी

सरकार ने लॉन्च किया ‘नीला आधार कार्ड’, जानिए किसको बनाना है ज़रूरी

Array

Published on

हमारे देश में आधार कार्ड बहुत ही ताकतवर चीज है। इसके बिना कोई भी सरकारी तथा गैरसरकारी काम होना लगभग असंभव सा होता है। प्रत्येक भारतीय नागरिक के लिए आधार कार्ड महत्वपूर्ण दस्तावेज है। आधार कार्ड केवल एक दस्तावेज ही नहीं है, बल्कि पहचान पत्र है। किसी भी वित्तीय लेनदेन और सरकारी योजनाओं का लाभ उठाने के लिए आधार बेहद जरूरी है।

आधार के बिना सरकारी योजनाओं से भी हम वंचित रह जाते हैं। दाखिले भी नहीं होते हैं। आधार में न सिर्फ आपके पते की जानकारी होती है, बल्कि इसमें व्यक्ति की बायोमेट्रिक जानकारी भी होती है।

आधार कार्ड (Aadhaar Card) जारी करने वाली संस्था भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) ने बच्चों का आधार बनवाने की सुविधा दे रखी है. नवजात शि​शु का भी आधार कार्ड बनवाया जा सकता है. यूआईडीएआई बच्चों के लिए नीले रंग का आधार कार्ड जारी करता है. इसे बाल आधार (Baal Aadhaar) भी कहते हैं. बाल आधार माता-पिता में से किसी एक के आधार से लिंक होता है.

शायद ही कोई ऐसा नागरिक होगा जिसका आधार कार्ड नहीं बना हुआ होगा। आधार कार्ड जारी करने वाली संस्था भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण बच्चों के आधार बनवाने की सुविधा भी देती है। जी हां, आपको अपने बच्चों के लिए बाल आधार बनवाना होता है। यदि आपका बच्चा पांच साल से कम उम्र का है तो आप उसके लिए बाल आधार बनवा सकते हैं।

सरकार ने लॉन्च किया ‘नीला आधार कार्ड’, जानिए किसको बनाना है ज़रूरी

यह आधार कार्ड साधारण आधार कार्ड से थोड़ा अलग ज़रूर होता है लेकिन काम का बहुत होता है। बच्चों के लिए जारी किया जाने वाला आधार नीले रंग का होता है। बाल आधार के लिए जहां कहीं भी बच्चे की पहचान की जरूरत होती है, वहां उसके माता-पिता को साथ जाना होता है। लेकिन बच्चे के पांच वर्ष के होने पर उसे अपने पास वाले स्थायी आधार केंद्र पर जाकर उसी आधार संख्या से बायोमेट्रिक विवरण रजिस्ट्रर कराना होता है। 

सरकार ने लॉन्च किया ‘नीला आधार कार्ड’, जानिए किसको बनाना है ज़रूरी

हम भी इसे अपने बच्चों के लिए बड़ी ही आसानी से आधार केंद्र जाकर बनवा सकते हैं। पांच साल से कम उम्र के बच्चों के लिए फिंगर प्रिंट और आई स्कैन नहीं होगा। जब बच्चे की उम्र पांच से 15 साल के बीच हो तो उनके आधार पर उनका बायोमेट्रिक अपडेट कराया जा सकता है।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...