HomeUncategorizedहादसा: बागवानी विभाग द्वारा खोदे गए गड्ढों में डूबने से हुई दो...

हादसा: बागवानी विभाग द्वारा खोदे गए गड्ढों में डूबने से हुई दो बच्चों की मौत, परिजनों ने लगाया लापरवाही का आरोप

Published on

शनिवार को करनाल जिले के उचानी गांव में विश्वविद्यालय के निर्माण के लिए खोदे गए गड्ढे में बारिश पानी भरा हुआ था। जिसमें दो मौसेरे भाइयों की डूबने से मौत हो गई। दोनों भाई अपने मामा के घर घूमने आए थे। घटना की सूचना एक बच्ची ने गांव जाकर उनके परिजनों को दी। फिर मौके पर पहुंचकर परिजनो ने दोनों बच्चों को पानी से बाहर निकाला और अस्पताल लेकर पहुंचे। जहां डॉक्टरों ने दोनों बच्चों को मृत घोषित कर दिया।

गांव उचानी में महाराणा प्रताप बागवानी विश्वविद्यालय का निर्माण किया जाना है। भवन बनाने के लिए वहां से नमूने लेने थे जिसके लिए गहरे गड्ढे खोदे गए थे। जिनमें बारिश का पानी भर गया।

हादसा: बागवानी विभाग द्वारा खोदे गए गड्ढों में डूबने से हुई दो बच्चों की मौत, परिजनों ने लगाया लापरवाही का आरोप

गांव उचानी निवासी संजय ने बताया कि उसके दो भांजे जस्सी (9) निवासी सराफाबाद माजरा करनाल से और कृष्णकांत (11) निवासी आगरा से उसके घर आए थे।

दोनों अन्य बच्चों के साथ खेलते-खेलते महाराणा प्रताप बागवानी विश्वविद्यालय के निर्माण स्थल की तरफ चले गए और वहां पानी से भरे गड्ढे में जा गिरे। परिजनों ने बागवानी विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों पर लापरवाही का आरोप लगाया है। उनका कहना है कि वहां उन्होंने कोई सुरक्षा कर्मी नहीं लगाया था और न ही किसी व्यक्ति ने उन बच्चों को गड्ढों के पास जाने से रोका।

घर का इकलौता चिराग था जस्सी

हादसा: बागवानी विभाग द्वारा खोदे गए गड्ढों में डूबने से हुई दो बच्चों की मौत, परिजनों ने लगाया लापरवाही का आरोप

मृतक के पिता सत्य प्रकाश ने बताया कि उसकी पत्नी को सांस की बीमारी है इसलिए वह अपनी पत्नी को दवा दिलाने गया था। अचानक उसके पास उसके साले का फोन आया कि जस्सी को कुछ हो गया है। वह जल्दबाजी में वहां से भागता–भागता आया, क्योंकि जस्सी उसका इकलौता बेटा था। जब वह गांव पहुंचा तो उसे पता चला कि वह गड्ढे में डूब गया है। उसने उस गड्ढे में डुबकी लगाई लेकिन तब तक बच्चा दम तोड़ चुका था। दोनों बच्चे काफी समय से अपने मामा के घर ही रह रहे थे।

हादसा: बागवानी विभाग द्वारा खोदे गए गड्ढों में डूबने से हुई दो बच्चों की मौत, परिजनों ने लगाया लापरवाही का आरोप

करनाल पुलिस अधीक्षक गंगाराम पुनिया ने बताया कि उचानी के महाराणा प्रताप बागवानी विश्वविद्यालय में गड्ढे में डूबने से दो बच्चों की मौत हो गई है, इसमें परिजनों ने विश्वविद्यालय के अधिकारियों पर लापरवाही का आरोप लगाया है। फिलहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और इसकी जांच के आदेश दे दिए हैं।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...